• राजनीति में रहने वाली महिला नेताओं को लेकर यति नरसिंहानंद ने की अश्लील टिप्पणी, दर्ज हुई 3 एफआईआर

अभिनय आकाश  Sep 01, 2021 17:36

यति नरसिंहानंद का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें वो महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं। जिसके बाद महंत नरसिंहानंद के खिलाफ यूपी के गाजियाबाद में तीन मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के डासना शिवशक्ति धाम मंदिर के पुजारी यति नरसिंहानंद सरस्वती अक्सर अपने विवादित बयानों के लिए ही चर्चा में रहते हैं। लेकिन इस बार महिलाओं पर दिए बयान की वजह से उनकी मुसीबतें बढ़ती जा रही हैं। यति नरसिंहानंद का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें वो महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं। जिसके बाद महंत नरसिंहानंद के खिलाफ यूपी के गाजियाबाद में तीन मुकदमे दर्ज किए गए हैं। हालांकि खुद को कानूनी पचड़ों में फंसता देख महंत ने वीडियो पर सफाई भी दी है। इसके साथ ही गाजियाबाद सदर के सीओ को पत्र लिखकर वीडियो से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की तेरहवीं कार्यक्रम में दी गई श्रद्धांजलि

 यति नरसिंहानंद सरस्वती किसी लाइव इंटरव्यू के लिए बैठे थे। इंटरव्यू शुरू होने से पहले उन्होंने जो बोला, वह वहां खड़े किसी शख्स ने रिकॉर्ड कर लिया और वायरल कर दिया। वायरल वीडियो 4 जुलाई का बताया जा रहा है। वीडियो में नरसिंहानंद कहते हैं कि इसके बाद आई ईमानदार सरकार और बहुत चरित्रवान लोगों की सरकार। अब  सरकारी ठेकों का रेट हो गया है 10 प्रतिशत. खुला रेट। बीजेपी में जितनी भी महिलाएं दिखाई दे रही हैं वो एक नेता के पास गईं और दूसरे के पास नहीं तो उनका काम नहीं होता। तीसरे से काम है तो तीसरे के पास जाना है। अब ये हैं ईमानदार और चरित्रवान लोग। ये है राजनीति। जितनी महिलाएं राजनीति करती घूमती हैं। पूरा मजा आ रहा है। मैं कह तो कुछ नहीं सकता। मातृशक्ति है, मैं मातृशक्ति को प्रणाम करता हूं। इसके साथ ही उन्होंने सपा, बसपा को लेकर भी अपनी थ्योरी दी। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार डकैतों की सरकार थी। वहां भी महिला किसी एक की ही होती थी। भले ही उस एक के पास कितनी भी औरतें क्यों न हो। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में महामारी के दौरान पहली बार खोले गए पहली से पांचवी कक्षा के लिए स्कूल

उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसमें यति नरसिंहानंद सरस्वती बीजेपी महिला नेताओं के बारे में बेहद आपत्तिजनक बातें करते हुए दिखाई दे रहे हैं। हालात यहां तक पहुंच गए कि वीडियो को लेकर कभी उनके समर्थन में रहने वाले बीजेपी नेताओं ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल कार्रवाई की मांग कर डाली।