UP की 100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी AIMIM, ओवैसी बोले- योगी और अखिलेश के भीतर मोदी से बड़ा हिंदू बनने की चल रही प्रतियोगिता

Asaduddin Owaisi
प्रतिरूप फोटो
उत्तर प्रदेश की 403 में से 100 सीटों पर भागीदारी संकल्प मोर्चा के तहत ओवैसी की पार्टी चुनाव लड़ेगी। ओवैसी ने बताया कि भागीदारी संकल्प मोर्चा के तहत सभी दलों ने फैसला किया कि बाबू सिंह कुशवाहा हमारे संयोजक होंगे। अगर हम चुनाव जीतते हैं तो पहले ढाई साल के लिए बाबू सिंह कुशवाहा मुख्यमंत्री होंगे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के चलते सियासी घमासान मचा हुआ है। इसी बीच एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अभी दोनों के भीतर यह प्रतियोगिता चल रही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बड़ा हिंदू कौन है। यहां पर समाजिक न्याय की लड़ाई नहीं हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: मतदाता किसानों की बात करने वालों का पक्ष लेंगे; हिंदू-मुस्लिम करने वालों का नहीं: टिकैत 

समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि वो एक मंदिर की बात कर रहे हैं तो आप एक मंदिर की बात कर रहे हैं। आप बात करिए अल्पसंख्यक समाज की, पिछड़ा समाज की। आप इन लोगों के जस्टिस की बात नहीं कर रहे हो। लड़ाई पूरी यह है कि योगी बड़ा हिंदू है या अखिलेश बड़ा हिंदू है। दोनों के भीतर यह प्रतियोगिता है कि मोदी से बड़ा हिंदू कौन बन जाएगा। समाजिक न्याय की लड़ाई हो रही है क्या ? नहीं हो रही है। इसी बीच पत्रकार ने ओवैसी से पूछा कि अभी तक बी पार्टी होने का आरोप लगता आ रहा है। जिस पर उन्होंने कहा कि ए प्लस हो चुके हैं।

100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी एआईएमआईएम

उत्तर प्रदेश की 403 में से 100 सीटों पर भागीदारी संकल्प मोर्चा के तहत ओवैसी की पार्टी चुनाव लड़ेगी। ओवैसी ने बताया कि भागीदारी संकल्प मोर्चा के तहत सभी दलों ने फैसला किया कि बाबू सिंह कुशवाहा हमारे संयोजक होंगे। अगर हम चुनाव जीतते हैं तो पहले ढाई साल के लिए बाबू सिंह कुशवाहा मुख्यमंत्री होंगे और बाकी के ढाई साल के लिए दलित मुख्यमंत्री होंगे। इसके अतिरिक्त 3 उपमुख्यमंत्री होंगे। जिसमें एक मुस्लिम समुदाय से और 2 पिछड़े समुदाय से होंगे।

इसे भी पढ़ें: अमित शाह की चुनौती पर अखिलेश बोले- भाजपा को बताना चाहिए कि कृषि कानून क्यों लाए थे?

आपको बता दें कि भागीदारी संकल्प मोर्चा में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, बाबू सिंह कुशवाहा की जन अधिकार पार्टी, भारत मुक्त मोर्चा, वामन मेश्राम की बैकवर्ड और माइनॉरिटी कम्यूनिटी एंप्लॉई फेडरेशन शामिल है। इस मोर्चा के तहत ओवैसी अपने 100 उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारेंगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़