पवित्र ग्रंथ गीता के लिए कुरुक्षेत्र के युवा खिलाड़ी दौड़ेंगे महोत्सव की गीता मैराथन में

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 23, 2021   20:29
पवित्र ग्रंथ गीता के लिए कुरुक्षेत्र के युवा खिलाड़ी दौड़ेंगे महोत्सव की गीता मैराथन में

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 के नोडल अधिकारी विजय दहिया के आदेशानुसार गीता मैराथन का आयोजन किया जाएगा। इस मैराथन में महिला व पुरुष वर्ग को शामिल किया जाएगा। इस मैराथन के लिए सभी प्रबंध जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग को करने होंगे।

चंडीगढ़ । अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 की गीता मैराथन 28 नवंबर को, 15 वर्ष से ज्यादा आयुवर्ग के खिलाड़ी 24 से 27 नवंबर तक द्रोणाचार्य स्टेडियम में करवा सकते है निशुल्क पंजीकरण, गीता महोत्सव में मैराथन जीतने वाले को मिलेगा 31 हजार रुपए का प्रथम पुरस्कार, महिला व पुरुष वर्ग में प्रथम 10-10 धावकों को दिए जाएंगे नगद पुरस्कार, पुरुषों के लिए 10 किलोमीटर और महिलाओं के लिए होगी 5 किलोमीटर की मैराथन,  आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित होगी मैराथन

कुरुक्षेत्र 23 नवंबर अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 में पवित्र ग्रंथ गीता के लिए कुरुक्षेत्र और आसपास के जिलों के युवा खिलाड़ी मैराथन में अपना दमखम दिखाएंगे।

इस वर्ष कोविड नियमों को जहन में रखते हुए 15 वर्ष से ज्यादा आयुवर्ग के खिलाड़ी ही अपना पंजीकरण करवा सकेंगे। इस  मैराथन का आयोजन ब्रहमसरोवर पुरुषोतमपुरा बाग में 28 नवंबर को होगा। इस मैराथन में भाग लेने के लिए खिलाड़ी 24 नवंबर से 27 नवंबर तक द्रोणाचार्य स्टेडियम कुरुक्षेत्र में अपना निशुल्क पंजीकरण करवा सकते है। इस मैराथन को भी आजादी के अमृत महोत्सव के साथ जोडकऱ आयोजित किया जाएगा। इस मैराथन में महिला व पुरुष वर्ग के दो वर्ग बनाए गए है। प्रत्येक वर्ग में पहले 10 स्थानों पर आने वाले धावकों को नगर पुरस्कार दिया जाएगा। इस पुरस्कार की राशि 31 हजार रुपए से लेकर 2100 रुपए तक तय की गई है। इस महोत्सव में गीता मैराथन 28 नवंबर होगी। इस मैराथन को सफल बनाने व अधिक से अधिक खिलाडिय़ों को शामिल करने की जिम्मेवारी जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग को सौंपी गई है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को दी सौगात, जल्द मिलेंगे टैबलेट

उपायुक्त मुकुल कुमार ने बातचीत करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 का आयोजन 2 दिसंबर से 19 दिसंबर तक किया जा रहा है। इस महोत्सव के कार्यक्रमों का आगाज पिछले कई वर्षो से युवाओं की भागीदारी के साथ किया जा रहा है। इसके लिए कई सालों से मैराथन का आयोजन किया जा रहा है। इस वर्ष भी अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 को लेकर 28 नवंबर को गीता मैराथन होगी। इस साल सरकार की तरफ से आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। इसलिए इस मैराथन को आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित किया जाएगा। इस मैराथन में कोविड नियमों की पालना की जाएगी और लगभग 500 लोग ही मैराथन में भाग लेंगे, अगर राज्य सरकार से कोविड नियमों की हिदायतों में छूट प्रदान की जाती है तो प्रतियोगिता में भाग लेने वालों की संख्या 1 हजार हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने दिए खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए राज्य स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2021 के नोडल अधिकारी विजय दहिया के आदेशानुसार गीता मैराथन का आयोजन किया जाएगा। इस मैराथन में महिला व पुरुष वर्ग को शामिल किया जाएगा। इस मैराथन के लिए सभी प्रबंध जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग को करने होंगे। इस प्रतियोगिता के लिए ट्रैफिक व्यवस्था तथा रुट चिह्नित करने का कार्य पुलिस अधीक्षक द्वारा कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के सहयोग से किया जाएगा। इस प्रतियोगिता की रूपरेखा खेल विभाग तैयार करेंगा। उन्होंने कहा कि गीता मैराथन में हर वर्ग के लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी और प्रयास किया जाएगा कि सभी के लिए इनाम रखा जाए। प्रशासन का प्रयास का है कि गीता मैराथन का आयोजन ब्रह्मसरोवर पर किया जाएगा। इस मैराथन के दौरान कोविड-19 के नियमों की पालना करवाने के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए गए है।

इसे भी पढ़ें: प्रदेशभर के एडिड कॉलेज में सेवानिवृत टीचिंग व नॉन टीचिंग स्टॉफ को सौगात

उपायुक्त ने कहा कि गीता मैराथन में पुरुष और महिला वर्ग में प्रथम स्थान पर आने वाले व्यक्ति को 31-31 हजार रुपए, द्वितीय को 21-21 हजार रुपए, तृतीय को 11-11 हजार रुपए और उसके बाद दसवें स्थान तक आने वाले व्यक्ति को 2100-2100 रुपए का इनाम दिया जाएगा। इस मैराथन के लिए खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के लिए करीब 8 लाख रुपए का बजट भी अलाट किया गया है। इस राशि से खिलाडिय़ों को पुरस्कार राशि तकनीकी आफिशियल को मानदेय, खिलाडिय़ों को टी-शर्ट, खेल किट, रिफ्रेशमेंट, प्रचार-प्रसार, माईक व्यवस्था सहित अन्य मदों पर खर्च किया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।