मुख्यमंत्री ने दिए खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए राज्य स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2021   20:23
मुख्यमंत्री ने दिए खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए राज्य स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 की तैयारी की समीक्षा के लिए सह-समन्वय आयोजन समिति की आयोजित दूसरी बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया। खेल और युवा मामलों के राज्य मंत्री, श्री संदीप सिंह भी बैठक में मौजूद रहे। बैठक में भारत सरकार के अधिकारी भी वर्चुअली जुड़े।

चंडीगढ़ मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने  आगामी खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए एक राज्य स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश दिए हैं। समिति की अध्यक्षता खेल एवं युवा मामलों के राज्य मंत्री संदीप सिंह करेंगे। यह समिति 5 से 14 फरवरी, 2022 के बीच पंचकूला, अंबाला, शाहाबाद, चंडीगढ़ और दिल्ली राज्य में होने वाले खेलों के लिए आवास, खानपान, परिवहन, समारोहों, आयोजन दिवसों और खेल उपकरणों की खरीद के संबंध में 25 खेल व्यवस्थाओं की निगरानी करेगी।

 

इसे भी पढ़ें: भारत में इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से की मुलाकात

 

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 की तैयारी की समीक्षा के लिए सह-समन्वय आयोजन समिति की आयोजित दूसरी बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया। खेल और युवा मामलों के राज्य मंत्री, श्री संदीप सिंह भी बैठक में मौजूद रहे। बैठक में भारत सरकार के अधिकारी भी वर्चुअली जुड़े। बैठक में निदेशक, खेल और युवा मामले, श्री पंकज नैन ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 की तैयारियों के संबंध में विस्तृत प्रस्तुति दी। मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को खेल के बुनियादी ढांचे को मजबूत और सुव्यवस्थित करने के भी निर्देश दिए हैं। बैठक में मुख्यमंत्री को बताया गया कि विभिन्न खेल परिसरों, हॉकी स्टेडियम और बैडमिंटन हॉल, ऑडिटोरियम और एथलेटिक स्टेडियम के विकास कार्य पूरे होने वाले हैं और दिसंबर तक बनकर तैयार हो जाएंगे। इनकी तैयारियों की साप्ताहिक समीक्षा की जा रही है।  खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 में पंचकूला से यमुनानगर के बीच साइकिलिंग प्रतियोगिता होगी। मुख्यमंत्री इन आयोजन स्थलों का स्वयं जायजा भी लेंगे।    

 

इसे भी पढ़ें: प्रदेशभर के एडिड कॉलेज में सेवानिवृत टीचिंग व नॉन टीचिंग स्टॉफ को सौगात

 

उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का शुभंकर ’धाकड़’ और थीम सॉन्ग तैयार कर लिया गया है। इसके लॉन्च और प्रमोशन सेरेमनी की तारीखें जल्द ही तय की जाएंगी। मुख्यमंत्री ने खेल विभाग के अधिकारियों को खेल की निगरानी की जिम्मेदारी जिला खेल और युवा मामलों के अधिकारियों (डीएसओ) को देने और खेल के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने और निकट भविष्य में खेल विभाग में इंजीनियरिंग विंग स्थापित करने की संभावनाओं का पता लगाने के भी निर्देश दिए। एचएसवीपी द्वारा एक जनवरी, 2022 से 10 खेल परिसरों को खेल विभाग को सौंप दिया जाएगा। इन स्टेडियमों का वार्षिक रखरखाव खेल विभाग द्वारा किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: हरियाणा के सात शहरों ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 में सम्मान हासिल किया

हरियाणा के मुख्य सचिव, श्री. विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री. डीएस ढेसी, अतिरिक्त मुख्य सचिव, वित्तीय आयुक्त, राजस्व, आपदा प्रबंधन और चकबंदी विभाग, श्री संजीव कौशल, अतिरिक्त मुख्य सचिव लोक निर्माण (बी एंड आर) और वास्तुकला विभाग श्री आलोक निगम, अतिरिक्त मुख्य सचिव, विकास एवं पंचायत विभाग, श्री. अमित झा, अतिरिक्त मुख्य सचिव, वित्त एवं योजना विभाग, श्री. टी.वी.एस.एन प्रसाद, प्रधान सचिव, खेल एवं युवा मामले विभाग, श्री. ए.के. सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान, श्री. वी. उमाशंकर, उप प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें: स्वच्छता सर्वे में पंचकूला को सिल्वर मेडल -ज्ञान चंद गुप्ता ने सफाई कर्मचारियों की पीठ थपथपाई

हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से मुख्य प्रशासक ट्रेड फेयर अथॉरिटी आफ हरियाणा, नई दिल्ली, महिला एवं बाल विकास विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती जी. अनुपमा को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा के अवकाश के दौरान स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रधान सचिव का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।