CWG 2022 के पहले मैच में आस्ट्रेलिया ने भारत को 3 विकेट से हराया, हरमनप्रीत ने जड़ा था अर्धशतक

INDvAUS
Twitter
भारतीय तेज गेंदबाज रेणुका सिंह के शानदार प्रदर्शन के बावजूद आस्ट्रेलिया ने वापसी करते हुए राष्ट्रमंडल खेलों में महिला क्रिकेट के पदार्पण मैच में शुक्रवार को भारत को तीन विकेट से हरा दिया। आस्ट्रेलिया के लिये 155 रन का लक्ष्य मुश्किल नहीं था।

बर्मिंघम। भारतीय तेज गेंदबाज रेणुका सिंह के शानदार प्रदर्शन के बावजूद आस्ट्रेलिया ने वापसी करते हुए राष्ट्रमंडल खेलों में महिला क्रिकेट के पदार्पण मैच में शुक्रवार को भारत को तीन विकेट से हरा दिया। आस्ट्रेलिया के लिये 155 रन का लक्ष्य मुश्किल नहीं था लेकिन अपना सातवां टी20 मैच खेल रही रेणुका ने चार ओवर में 18 रन देकर चार विकेट लेते हुए आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी। आस्ट्रेलिया के पांच विकेट 49 रन पर गिर गए थे लेकिन इसके बाद भारत ने कोताही बरत दी जिससे एशले गार्डनर (35 गेंद में नाबाद 52 रन) ने टीम को मैच में लौटा दिया। उन्होंने ग्रेस हैरिस (37) के साथ 51 और अलाना किंग (नाबाद 18) के साथ 47 रन की साझेदारी की।

इसे भी पढ़ें: बीसीसीआई को भारतीय क्रिकेटरों को विदेशी टी20 लीग में भाग लेने की अनुमति देनी चाहिए: गिलक्रिस्ट 

मौजूदा टी20 और वनडे विश्व चैम्पियन आस्ट्रेलिया ने संकट से निकलकर जीत दर्ज करके अपने तेवर और तैयारी भी दिखा दी। पावरप्ले में रेणुका ने शानदार तेज गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए पहले ही ओवर में एलिसा हीली को आउट किया। इसके बाद बेथ मूनी और आस्ट्रेलियाई कप्तान मेग लानिंग के विकेट चटकाये। ताहलिया मैकग्रा के आउट होने पर आस्ट्रेलिया का स्कोर चार विकेट पर 34 रन था। भारत के स्पिनरों राधा यादव और राजेश्वरी यादव ने छह ओवर में 66 रन लुटाकर आस्ट्रेलिया को वापसी का मौका दे दिया।

इससे पहले कप्तान हरमनप्रीत कौर और शेफाली वर्मा की शानदार पारियों के दम पर भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए आठ विकेट पर 154 रन बनाये। शेफाली ने 33 गेंद में 48 रन बनाये जबकि हरमनप्रीत ने 34 गेंद में 52 रन की पारी खेली। आस्ट्रेलिया जैसी चैम्पियन टीम के खिलाफ हालांकि यह स्कोर औसत साबित हो सकता है। प्रतियोगिता की पहली गेंद में तेज गेंदबाज डार्सी ब्राउन का सामना करने वाली भारत की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने महिला क्रिकेट में एक नये युग का आगाज किया। महिला क्रिकेटरों की नजरें राष्ट्रमंडल खेलों के जरिये ओलंपिक में राह बनाने पर लगी है। इस मैच में मेजबान इंग्लैंड नहीं खेल रहा था लेकिन 25000 की क्षमता वाले एजबस्टन स्टेडियम के बाहर मैच से पहले लंबी कतारें देखी गई। स्टेडियम आधा भरा था लेकिन शोर में कोई कमी नहीं थी। दर्शक भारतीय बल्लेबाजों के बल्ले के निकले हर चौके छक्के पर तालियां बजा रहे थे।

बर्मिंघम की रहने वाली परमजीत ने कहा ,‘‘ हमें क्रिकेट बहुत पसंद है। हमने इस महीने भारतीय पुरूष टीम को भी यहां खेलते देखा। उसके लिये 140 पाउंड का टिकट खरीदा और आज 22 पाउंड का टिकट लिया।’’ एक अन्य दर्शक लिंडा कासे ने कहा ,‘‘ यह दूसरी बार मैं मैदान पर मैच देखूंगी। चार साल पहले मैने एंटीगा में पुरूष टीम का मैच देखा था। मैं यहां सर्रे से चार दिन की यात्रा पर आई हूं और ज्यादा से ज्यादा खेल देखना चाहती हूं। माहौल जबर्दस्त है।’’

इसे भी पढ़ें: Commonwealth Games 2022: पहले दिन हॉकी, क्रिकेट समेत इन खेलों में खिलाड़ी दिखाएंगे अपना दम, इन चेहरों पर रहेगी नजर 

हरमनप्रीत सिंह की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने आखिरी पांच ओवर में 39 रन के भीतर पांच विकेट गंवाये। स्मृति अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में नहीं बदल सकी लेकिन शेफाली और हरमनप्रीत ने आक्रामक बल्लेबाजी की। शेफाली ने 10वें ओवर में डार्सी को लगातार तीन चौके जड़कर आस्ट्रेलियाई खेमे में खलबली मचा दी। हरमनप्रीत ने एशले गार्डनर को पैडल स्वीप लगाया और स्पिनरेां को खासी नसीहत दी। पारी का एकमात्र छक्का 20वें ओवर में उन्होंने जेस जोनासेन को जड़ा। इसके साथ ही टी20 क्रिकेट में अपना सातवां अर्धशतक भी पूरा किया। दूसरे छोर से उन्हें अपेक्षित सहयोग नहीं मिल सका। निचले मध्यक्रम ने कोई योगदान नहीं दिया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़