इंग्लैंड के इस तेज गेंदबाज को नहीं है शार्ट गेंदबाजी करने का पछतावा

englands-wood-has-no-regrets-over-afghanistan-short-stuff
इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड ने कहा कि जहां तक मेरा संबंध है तो जब यह लगी तो निश्चित रूप से काफी तेज लगी थी, लेकिन यह मेरे हाथ से बाहर जा चुकी थी। अब मेडिकल स्टाफ को अपना काम करना था।

मैनचेस्टर। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड ने कहा कि उन्हें शार्ट पिच गेंद फेंकने का कोई मलाल नहीं है जबकि उनका एक बाउंसर अफगानिस्तान के बल्लेबाज हशमतुल्लाह शाहिदी के हेलमेट से टकराया था। शाहिदी मंगलवार को जब 24 रन पर खेल रहे थे, तब वुड की गेंद उनके हेलमेट पर लगी और वह गिर पड़े। रिटायर्ड हर्ट होने के बजाय शाहिदी ने नया हेलमेट लिया और खेलने लगे। इसके बाद वह 76 रन बनाकर शीर्ष स्केारर रहे। वुड हालांकि शाहिदी के लिये चिंतित थे और उन्होंने उसकी हालत भी पूछी। लेकिन उन्हें इस तरह की गेंद फेंकने का कोई पछतावा नहीं है। 

इसे भी पढ़ें: धवन की वापसी की उम्मीदों पर लगा विराम, ऋषभ पंत होंगे टीम में शामिल

वुड ने कहा, ‘जहां तक मेरा संबंध है तो जब यह लगी तो निश्चित रूप से काफी तेज लगी थी, लेकिन यह मेरे हाथ से बाहर जा चुकी थी। अब मेडिकल स्टाफ को अपना काम करना था। मैंने खुद जाकर पूछा कि वह कैसा है। इसके बाद मैं फिर गेंदबाजी करने लगा।’ डरहम के इस 29 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा कि मोर्गी (इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन) चाहता था कि मैं एक और बाउंसर फेंकू। अगर आपका कप्तान यही चाहता है तो आप उसका आदेश सुनते हो। वुड ने कहा कि एक बार आपको पता चल जाये कि बल्लेबाज सही है तो फिर मैच में गेंदबाजी करने पर लग जाना होता है

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़