श्रीलंका दौरे को लेकर रूतुराज गायकवाड़ ने कहा, परिस्थितियों के मुताबिक ढलने की क्षमता पर भरोसा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 11, 2021   17:23
  • Like
श्रीलंका दौरे को लेकर रूतुराज गायकवाड़ ने कहा, परिस्थितियों के मुताबिक ढलने की क्षमता पर भरोसा

रूतुराज गायकवाड़ ने अभ्यास सत्र के बाद कहा कि, मैं काफी खुश हूं।जिस क्षण से मुझे इसके बारे में पता चला, मेरी आंखों के सामने अपने करियर की यात्रा आ गयी कि मैंने कहा से अपना सफर शुरू किया था और मैं कहां पहुंचना चाहता हूं।

पुणे। भारतीय टीम के लिए पहली बार चुने गये सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़ ने शुक्रवार को कहा कि वह श्रीलंका के आगामी दौरे पर परिस्थितियों से जल्दी सामांजस्य बिठाने की अपनी क्षमता पर भरोसा जताएंगे। महाराष्ट्र का 24 साल का यह बल्लेबाज 13 जुलाई से 25 जुलाई तक श्रीलंका दौरे पर तीन एकदिवसीय और इतने ही टी20 मैचों की श्रृंखला के लिएशिखर धवन की अगुवाई में चुनी गयी 20 सदस्यीय टीम में छह नये चहरों में से एक है। गायकवाड़ ने यहां अभ्यास सत्र के बाद कहा, ‘‘ मैं काफी खुश हूं।जिस क्षण से मुझे इसके बारे में पता चला, मेरी आंखों के सामने अपने करियर की यात्रा आ गयी कि मैंने कहा से अपना सफर शुरू किया था और मैं कहां पहुंचना चाहता हूं। अभी भावनाओं से भरा हुआ हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ आप उन लोगों के बारे में सोचते हैं जिन्होंने पूरी यात्रा में आपका साथ दिया है, चाहे वह मेरे माता-पिता हों, दोस्त हों या कोच। तो जाहिर तौर पर सभी के लिए गर्व की अनुभूति और सभी के लिए खुशी की बात है।’’ दाएं हाथ के बल्लेबाज का 59 लिस्ट ए मैचों में47 से अधिक का औसत है और टी20 प्रारूप में उनका स्ट्राइक रेट 130 से अधिक है।

इसे भी पढ़ें: तोक्यो ओलंपिक में अपना दल नहीं भेजेगा खेल मंत्रालय, जानिए कारण

गायकवाड़ को लगता है कि खेल में किसी भी स्थिति में ढलना उनकी ‘मूल ताकत’ है। उन्होंने कहा, ‘‘ मेरी ताकत टीम के जरूरत के मुताबिक खेलना है चाहे वह आक्रामक तरीके से हो या स्थिति के अनुसार। कई बार यह सुनिश्चित करना होता है कि टीम मुश्किल परिस्थिति से बाहर निकले। मैं आक्रामक और रक्षात्मक दोनों स्थितियों के अनुकूल हूं, यही मुझे लगता है कि यहमेरी ताकत है।’’ आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के साथ सफलता हासिल करने के बाद तेजी से उभरे इस युवा खिलाड़ी ने कहा कि वह फिर से राहुल द्रविड़ के साथ फिर से जुड़ना चाहते हैं, जो टीम के मुख्य कोच होंगे। द्रविड़ इससे पहले भारतीय अंडर-19 और ए टीमों को कोचिंग दे चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ इस दौरे पर सीमित अवसर मिलेगा लेकिन मैं इस यात्रा से जितना हो सके सीखने की उम्मीद कर रहा हूं। टीम में अनुभवी खिलाड़ी हैं और जाहिर है एक बार फिर मुझे राहुल सर के साथ जुड़ने का मौका मिलेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ ‘भारत ए’ का आखिरी दौरालगभग डेढ साल पहले हुआ था, ऐसे में एक बार फिर से उनके (राहुल द्रविड) मिलने और बात करने का मौका मिलेगा। इसलिए यह प्रदर्शन और स्कोरकार्ड के आंकड़ों से काफी अधिक है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ जाहिर है अगर मुझे मौका मिलता है, तो उम्मीद है कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ दे सकूं और भारत के लिए मैच जीत सकूं। मेरा सबसे बड़ा लक्ष्य भारतीय टीम या अपने देश के लिए जीत हासिल करना है।’’

इसे भी पढ़ें: पहलवान अंशु मलिक को बुखार होने के कारण पोलैंड ओपन से हटाया गया

गायकवाड़ चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में फाफ डु प्लेसिस और महेन्द्र सिंह धोनी जैसे दिग्गजों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा कर चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘‘माही भाई के साथ की बात करू तो, जाहिर तौर पर वह जो कुछ भी बोलते हैं, वह हमेशा अनुसरण करने लायक होता है। मैंने सुना था कि उन्होंने मैच के बाद की प्रस्तुति में मेरे बारे में बात की थी। मैं उनके साथ ज्यादा बात नहीं करता, उन्हें पता है कि मैं शांत और शर्मीला खिलाड़ी हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ धोनी को जब भी लगता कि मैं दबाव हूं तो वह मेरे पास सबसे पहले आते थे और कहते थे कि चिंता की कोई बात नहीं।’’ गायकवाड़ अब चंदू बोर्डे और केदार जाधव जैसे महाराष्ट्र के उन शानदार क्रिकेटरों की सूची में शामिल हो सकते हैं जो भारत की तरफ से खेले। उन्होंने कहा कि जाधव ने उनकी यात्रा में प्रभावशाली भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा, ‘‘केदार (जाधव) मेरी यात्रा की शुरुआत से मेरे साथ हैं, जब से मेरा प्रथम श्रेणी करियर शुरू हुआ और मुझे लगता है कि वह पूरी यात्रा में बहुत प्रभावशाली रहे हैं। वह हमेशा मुझे प्रोत्साहित करते रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept