कोटा निरस्त होने पर भारत के विदेशी कोच ने कहा, ‘यह बेवकूफी है’

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 23, 2019   14:21
कोटा निरस्त होने पर भारत के विदेशी कोच ने कहा, ‘यह बेवकूफी है’

कोच पावेल सिमरनोव ने कहा, ‘‘आपको याद होगा कि 2016 में ईरान को ओलंपिक से बाहर कर दिया गया। केवल कुछ अधिकारियों की बेवकूफी के कारण ऐसा फिर से हुआ।''''

नयी दिल्ली। भारत के विदेशी पिस्टल कोच पावेल सिमरनोव ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तानी निशानेबाजों को वीजा नहीं दिये जाने के कारण नयी दिल्ली विश्व कप से दो ओलंपिक कोटा निरस्त करने के आईओसी के फैसले पर गुस्सा जताया। भारत ने शनिवार से शुरू होने वाले विश्व कप के लिये पाकिस्तानी निशानेबाजों को वीजा नहीं दिया। इसके परिणामस्वरूप अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने पुरूषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा के दोनों ओलंपिक कोटा निरस्त कर दिये। पिछले एक दशक से भारतीय निशानेबाजी से जुड़े सिमरनोव ने कहा, ‘‘किसने वीजा नहीं दिया? मैं जानता हूं। यह बेवकूफी है। यह भारत के लिये बहुत बुरा है। यह झटका है।’’

इसे भी पढ़ें: दिल्ली निशानेबाजी विश्व कप से ओलंपिक कोटा लिया गया वापस

उन्होंने कहा, ‘‘आपको याद होगा कि 2016 में ईरान को ओलंपिक से बाहर कर दिया गया। केवल कुछ अधिकारियों की बेवकूफी के कारण ऐसा फिर से हुआ।’’ इस स्पर्धा में भाग ले रहे भारतीय निशानेबाजों अनीस भानवाला, आदर्श सिंह और अर्पित गोयल ने हमेशा की तरह अभ्यास किया। राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले सबसे युवा भारतीय भानवाला ने कहा, ‘‘कोटा है या नहीं है, मैं यहां केवल अपनी स्पर्धा पर ध्यान दे रहा हूं और अभी किसी अन्य चीज के बारे में नहीं सोच रहा हूं। इससे मेरी योजनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।