कोलोन मुक्केबाजी के फाइनल में पहुंचे साक्षी और बासुमात्रे, पिंकी-प्रवीण को मिला कांस्य

sakshi-and-pwilao-basumatre-made-an-entry-in-finale-of-cologne-boxing-world-cup-pinky-pravin-got-bronze
फाइनल में 26 साल की इस खिलाड़ी का मुकाबला चीन की चेंगयू यांग से होगा। स्ट्रैंड्जा मुक्केबाजी में स्वर्ण पदक विजेता मैसनाम भी फाइनल में पहुंच गयी है। छोटे ड्रा के कारण वह सीधे फाइनल में खेलेंगीं राष्ट्रमंडल खेलों की कांस्य पदक विजेता पिंकी रानी (51 किलो) को हालांकि सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा।

कोलोन। मौजूदा युवा विश्व चैम्पियन साक्षी(57 किग्रा) और पिलाओ बासुमात्रे (64 किग्रा) ने शुक्रवार को यहां कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह पक्की की तो वहीं पिंकी रानी (51 किग्रा) और प्रवीण (60 किग्रा) को सेमीफाइनल में हार कर कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।अठारह साल की साक्षी ने थाईलैंड की तिनताबथाई प्रिडाकामोन कोकोई मौका नहीं दिया और 5-0 की जीत दर्ज की। दो बार की युवा विश्व चैम्पियन का फाइनल में राष्ट्रमंडल खेलों की रजत पदक विजेता आयरलैंड की मिशेला वाल्स से होगा। 

इसे भी पढ़ें: मुक्केबाजी विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचे पिंकी और साक्षी

स्ट्रैंड्जामुक्केबाजी चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता बासुमात्रे को डेनमार्क की एइआजा दित्ते फ्रोस्तोल्म को खंडित फैसले से हराया। फाइनल में 26 साल की इस खिलाड़ी का मुकाबला चीन की चेंगयू यांग से होगा। स्ट्रैंड्जा मुक्केबाजी में स्वर्ण पदक विजेता मैसनाम भी फाइनल में पहुंच गयी है। छोटे ड्रा के कारण वह सीधे फाइनल में खेलेंगीं राष्ट्रमंडल खेलों की कांस्य पदक विजेता पिंकी रानी (51 किलो) को हालांकि सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा।इंडिया ओपन की स्वर्ण पदक विजेता पिंकी रानी को अयरलैंड की कार्ले मैकनौल ने हराया जबकि इंग्लैंड की मुक्केबाज पैगे मुरने ने प्रवीण को शिकस्त दी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़