FIFA World Cup 2022 : स्पेन की युवा टीम को देनी होगी कोस्टारिका के खिलाफ कड़ी परीक्षा

spain football
Twitter @SEFutbol
स्पेन फीफा विश्वकप में अपने दूसरे खिताब की कवायद में बुधवार को जब कोस्टारिका का सामना करेगा तो इस टूर्नामेंट में उसके लिए नए युग की शुरुआत भी होगी क्योंकि उसकी टीम में अधिकतर युवा खिलाड़ी शामिल हैं। कोस्टारिका की अनुभवी टीम के सामने स्पेन की कड़ी परीक्षा होगी।

दोहा। स्पेन फीफा विश्वकप में अपने दूसरे खिताब की कवायद में बुधवार को जब कोस्टारिका का सामना करेगा तो इस टूर्नामेंट में उसके लिए नए युग की शुरुआत भी होगी क्योंकि उसकी टीम में अधिकतर युवा खिलाड़ी शामिल हैं। स्पेन की इस नई टीम की अगुवाई लगातार दो गोल्डन ब्वॉय पुरस्कार विजेता पेड्री और गावी करेंगे। इन खिलाड़ियों की कोस्टारिका की अनुभवी टीम के सामने कड़ी परीक्षा होगी। कोस्टारिका ने अपनी टीम में कुछ उन खिलाड़ियों को शामिल किया है जिन्होंने उसे आठ साल पहले क्वार्टर फाइनल में पहुंचाने में मदद की थी। 

कोस्टारिका को उम्मीद है कि वह ब्राजील में आठ साल पहले खेले गए विश्वकप की सफलता को दोहराने में सफल रहेगा और चार साल पहले रूस में मिली निराशा से बचना चाहेगा। तब कोस्टारिका की टीम एक भी मैच नहीं जीत पाई थी और पहले दौर में ही बाहर हो गई थी। स्पेन भी 2018 के टूर्नामेंट की पुनरावृति से बचना चाहेगा जब उसे मेजबान रूस ने अंतिम 16 से आगे नहीं बढ़ने दिया था। पिछले विश्वकप में भाग लेने वाले कई दिग्गज खिलाड़ी अब टीम में नहीं हैं। इनमें सर्जियो रामोस, गेरार्ड पिके, एंड्रेस इनिएस्ता और डेविड सिल्वा शामिल हैं। 

इसके बजाय कोच लुइस एनरिक ने 19 वर्षीय पेड्री, 20 वर्षीय अनु फती और निको विलियम्स तथा स्पेन के सबसे युवा गोल स्कोरर 18 वर्षीय गावी पर दांव लगाया है। पेड्री ने कहा कि मुझे लगता है पूरी टीम अपनी जिम्मेदारी समझती है और उसे निभाती है। मैं यह सोचकर खुद को राष्ट्रीय टीम का स्टार नहीं मानता क्योंकि दोहा में एक बड़े बोर्ड पर मेरी तस्वीर लगी है। मैं केवल खेल पर ध्यान दे रहा हूं और सही मानसिकता में रहना चाहता हूं तथा कोच मुझसे जो भी अपेक्षा रखते हैं उसे पूरी करना चाहता हूं। विश्व कप में खेलने वाली सबसे युवा टीम में स्पेन का नंबर अमेरिका और घाना के बाद तीसरा है। 

उसकी टीम की कुल औसत आयु 25.3 वर्ष है। उसकी टीम में छह खिलाड़ी ऐसे हैं जिनकी उम्र 20 वर्ष या इससे कम है और वे अपने पहले विश्वकप में खेल रहे हैं। लगातार तीसरे विश्वकप में खेल रहे कोस्टारिका ने अपनी टीम में 2014 में क्वार्टर फाइनल में नीदरलैंड से पेनल्टी शूटआउट में हारने वाली टीम के कुछ खिलाड़ी रखे हैं। इनमें से रियाल मैड्रिड के पूर्व गोलकीपर कीलर नवास तथा विलारियाल और रियल बेटिस की तरफ से खेलने वाले स्ट्राइकर जोल कैंपबेल भी शामिल हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़