पहलवान रितु फोगाट टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना से बाहर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 19, 2019   18:58
पहलवान रितु फोगाट टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना से बाहर

राष्ट्रमंडल कुश्ती में स्वर्ण और एशियाई चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली रितु गीता और बबीता फोगाट की छोटी बहन है। साइ की बैठक में पांच पैरा बैडमिंटन खिलाड़ियों को तोक्यो पैरालम्पिक खेलों के लिये टाप्स में शामिल करने का भी फैसला लिया गया।

नयी दिल्ली। फोगाट बहनों में सबसे छोटी पहलवान रितु फोगाट को टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना (टाप्स) से बाहर कर दिया गया है जिसने मिश्रित मार्शल आर्ट में पदार्पण का फैसला किया। भारतीय खेल प्राधिकरण ने रितु को टाप्स से बाहर करने का फैसला किया चूंकि उसने खुद को तोक्यो ओलंपिक 2020 के लिये उपलब्ध नहीं बताया है। वह सिंगापुर में एमएमए में पदार्पण करेगी। साइ ने एक बयान में कहा, ''पहलवान रितु फोगाट को पहले टाप्स में शामिल किया गया था लेकिन अब उसे बाहर कर दिया गया है क्योकि वह 2020 ओलंपिक नहीं खेलेगी। वह सिंगापुर में मिश्रित मार्शल आर्ट में कॅरियर शुरू करने जा रही है।’’ 

इसे भी पढ़ें: भ्रष्टाचार में फंसे जापान के ओलंपिक प्रमुख ताकेदा पद छोड़ेंगे

राष्ट्रमंडल कुश्ती में स्वर्ण और एशियाई चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली रितु गीता और बबीता फोगाट की छोटी बहन है। साइ की बैठक में पांच पैरा बैडमिंटन खिलाड़ियों को तोक्यो पैरालम्पिक खेलों के लिये टाप्स में शामिल करने का भी फैसला लिया गया। बैठक में साइ महानिदेशक नीलम कपूर और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने भी भाग लिया। मनोज सरकार और प्रमोद भगत (पुरूष एकल एसएल 3), सुकांत कदम, तरूण और सुहास (पुरूष एकल एसएल 4) टाप्स में शामिल पैरा बैडमिंटन होंगे। छह तैराकों को भी 2024 ओलंपिक के लिये डेवलपमेंटल ग्रुप में शामिल किया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।