आपने बीजेपी ज्वाइन करते वक्त राष्ट्रवाद का नाम लिया था तो अपने भाषणों में जातिवाद की बात क्यों करती हैं, जानिए एंकर के इस सवाल पर क्या बोलीं अपर्णा यादव

आपने बीजेपी ज्वाइन करते वक्त राष्ट्रवाद का नाम लिया था तो अपने भाषणों में जातिवाद की बात क्यों करती हैं, जानिए एंकर के इस सवाल पर क्या बोलीं अपर्णा यादव

जब एंकर ने अपर्णा से पूछा कि पीएम ने पिछले सप्ताह एक इंटरव्यू में परिवारवाद को लेकर मुलायम सिंह यादव पर हमला बोला था तू क्या आपको दुख हुआ। इस सवाल के जवाब में अपर्णा ने कहा कि मुझे बिल्कुल भी दुख नहीं हुआ क्योंकि उन्होंने सत्य कहा।

इन दिनों उत्तर प्रदेश में चाहे सत्ता पक्ष के नेता हो या विपक्ष के नेता सभी चुनावों को लेकर जनसभाओं के जरिए अपनी बात जनता तक पहुंचा रहे हैं ताकि जनता का साथ पाकर वह चुनाव में जीत दर्ज कर सकें। बीजेपी के कुनबे में प्रधानमंत्री मोदी और नंबर दो की हैसियत रखने वाले अमित शाह से लेकर तमाम नेता टीवी इंटरव्यू और जनसभाओं के जरिए अपनी बात कह रहे हैं। इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी से निकलकर बीजेपी का दामन थाम चुकीं अपर्णा यादव भी अपनी पार्टी को चुनाव में जीत दिलाने के लिए जनसभाओं को संबोधित करती दिख रहीं हैं। इतना ही नहीं वह इन तमाम मुद्दों को लेकर टीवी इंटरव्यूज भी दें रही हैं। इसी दौरान जब उनसे सवाल पूछा गया कि बीजेपी ज्वाइन करते वक्त आपने राष्ट्रवाद का नाम लिया था जबकि अपने भाषणों में आप जातिवाद की बात करती हैं। इस सवाल पर उन्होंने अपना बचाव करते हुए जवाब दिया।

दरअसल अपर्णा यादव एबीपी न्यूज़ को इंटरव्यू दे रही थी। इसी दौरान जब एंकर सुमित अवस्थी ने उनसे सवाल किया कि अपने भाषणों में आप कह रही है कि जो यादव थे, वह सेना के आगे वाला लेकर चलते थे। अगर आपने राष्ट्रवाद के नाम पर बीजेपी ज्वाइन की थी तो आप अपने भाषणों में जातिवाद की बात क्यों करती हैं। इसके जवाब में अपर्णा यादव ने कहा कि उस दिन यादव भाइयों की बीजेपी में जॉइनिंग थी इसलिए मैंने यह बात कही थी।

एंकर द्वारा पूछे गए सवाल पर अपर्णा ने कहा कि आप इतिहास के विद्यार्थी हैं पर मैं राजनीति विज्ञान की विद्यार्थी थी। मैंने इतिहास का भी अध्ययन किया है। अगर आप प्राचीन इतिहास को उठाकर पढ़ेंगे तो आपको यह महाभारत में भी मिल जाएगा इसके लिए बहुत दूर जाने की जरूरत नहीं होगी।

जब अपर्णा से सवाल किया गया कि वह यादव बनकर प्रचार करती हैं या राजपूत बनकर  तो अपर्णा ने जवाब दिया कि मैं नेताजी (मुलायम सिंह यादव) की बहू हूं उस नाते मैं यादव हूं। इस बात को जाती पर क्यों ले कर आया जा रहा है इसे मैं नहीं जानती हूं। वह कहती हैं मैं तो राष्ट्रवाद के जरिए युवाओं और महिलाओं को जोड़ने का प्रयास कर रही हूं तो इसमें जातिवाद की बात कहां से आ गई।

जब एंकर ने अपर्णा से पूछा कि पीएम ने पिछले सप्ताह एक इंटरव्यू में परिवारवाद को लेकर मुलायम सिंह यादव  पर हमला बोला था तू क्या आपको दुख हुआ। इस सवाल के जवाब में अपर्णा ने कहा कि मुझे बिल्कुल भी दुख नहीं हुआ क्योंकि उन्होंने सत्य कहा। आपको बताते चलें कि अपर्णा यादव इस बार यूपी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ रही हैं। हालांकि वह पार्टी के लिए प्रचार जरूर कर रही हैं।

   






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

ट्रेंडिंग

झरोखे से...