दस्त से ना हों परेशान, बस अपनाएं यह उपाय

loose motion
Prabhasakshi
मिताली जैन । Jul 24, 2022 10:26AM
नींबू का रस दस्त के इलाज के लिए सबसे सामान्य और तुरंत उपलब्ध उपचारों में से एक है। नींबू एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरा होता है जो आपकी आंतों को रिलैक्स कर सकता है। साथ ही, सूजन और कमजोरी को भी दूर करने में मदद करता है।

लूज मोशन जिसे दस्त भी कहा जाता है, पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या होती है। इसमें व्यक्ति बार-बार मल त्याग करता है और शरीर में पानी की कमी हो जाती हे। लूज मोशन तब होता है जब आपकी आंत किसी वायरस से संक्रमित हो जाती है। ऐसे में व्यक्ति बहुत अधिक थकान का अनुभव करता है। आमतौर पर, इसे बहुत अधिक सीरियस समस्या नहीं माना जाता, लेकिन अगर आप समस्या को आसानी से मैनेज करना चाहते हैं तो कुछ आसान घरेलू उपायों की मदद ली जा सकती है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही उपायों के बारे में बता रहे हैं, जो दस्त में प्रभावी हो सकते हैं-

नींबू का रस

नींबू का रस दस्त के इलाज के लिए सबसे सामान्य और तुरंत उपलब्ध उपचारों में से एक है। नींबू एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरा होता है जो आपकी आंतों को रिलैक्स कर सकता है। साथ ही, सूजन और कमजोरी को भी दूर करने में मदद करता है। नींबू का रस मैग्नीशियम और पोटेशियम जैसे खनिजों में समृद्ध है, जो शरीर द्वारा खोए गए पोषक तत्वों को फिर से भरने में मदद कर सकता है। आप हर बार दस्त करने के बाद नींबू पानी बनाकर उसका सेवन करें।

इसे भी पढ़ें: सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है ये हरी सब्जी, इसके सेवन से शरीर को मिलेंगे जबरदस्त फायदे

दही 

दही प्रोबायोटिक्स में समृद्ध है और इसलिए यह पाचन तंत्र में दस्त पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करती है। जब आप कब्ज से पीड़ित होते हैं तब इसका सेवन करना लाभदायक हो सकता है, क्योंकि यह पाचन में सहायता करती है और गुड बैक्टीरिया की संख्या में वृद्धि करती है। आप दही को ऐसे ही खा सकते हैं।

सरसों के बीज 

सरसों के बीज में कुछ जीवाणुरोधी गुण पाए जाते हैं जो लूज मोशन में प्रभावी उपचार के रूप में काम करते हैं। इसके लिए आप एक चम्मच पानी में चम्मच राई डालें और एक घंटे के लिए रख दें। अब इस पानी को ऐसे पिएं जैसे आप रेग्युलर ओरल टॉनिक लेते हैं। आप इसे दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

मेथीदाना

मेथी में जीवाणुरोधी और एंटिफंगल गुण होते हैं, जो लूज मोशन के उपचार में मदद करते हैं। इसके लिए, एक से दो चम्मच सूखे मेथी के बीज लें और इसे एक ब्लेंडर में पीसकर बारीक पाउडर बना लें। अब, इस चूर्ण को एक गिलास पानी में मिलाकर रोजाना सुबह खाली पेट दो से तीन दिन तक सेवन करने से दस्त से पूरी तरह आराम मिल जाता है। 

इसे भी पढ़ें: कब्ज में इन चीजों से नहीं करेंगे परहेज तो बहुत पछताएंगे! यहाँ पढ़ें बेहतर लाइफस्टाइल की ABCD

शहद

शहद एक प्राकृतिक औषधि है जो बहुत सारी स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक कर सकती है और बहुत ही प्रभावी लूज मोशन घरेलू उपचार है। इसका सेवन करना बेहद ही आसान है। बस दिन में एक चम्मच ताजा और शुद्ध शहद लें। बेहतर होगा कि आप ऑर्गेनिक शहद लें।

- मिताली जैन

अन्य न्यूज़