• महंगे प्रॉडक्ट नहीं, अपनी खूबसूरत स्किन के लिए इस एक चीज का इस्तेमाल करती हैं उर्वशी रौतेला

मिताली जैन Jun 17, 2021 11:43

उर्वशी ने अपनी पोस्ट में मड थेरेपी के फायदों के बारे में बताया है। आज हम आपको इसके कुछ स्किन बेनिफिट्स के बारे में बता रहे हैं। आयुर्वेद के अनुसार, मिट्टी विषाक्त पदार्थों को दूर करती है और शरीर में पित्त के बुरे प्रभावों को नियंत्रित करती है।

ग्रेट ग्रांड मस्ती, हेट स्टोरी 4 और सिंह साहब द ग्रेट जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी उर्वशी रौतेला एक बेहद ही खूबसूरत अदाकारा है। उनकी खूबसूरती का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्हें अंडमान और निकोबार आईलैंड की सरकार और पर्यटन द्वारा यूनिवर्स 2018 में सबसे कम उम्र की सबसे खूबसूरत महिला के रूप में नामित किया गया था। उन्होंने इंडियन प्रिसेस 2011, मिस टूरिज्म वर्ल्ड 2011 और मिस एशियन सुपरमॉडल 2011 जीता। उन्होंने चीन में आयोजित मिस टूरिज्म क्वीन ऑफ़ द ईयर 2011 का खिताब भी जीता और प्रतियोगिता जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। उनके फैन्स भी उनकी खूबसूरती के कायल हैं और उनकी तरह दिखना चाहते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि उर्वशी अपनी खूबसूरती के लिए महंगे प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल नहीं करती हैं, बल्कि वह मड थेरेपी को यूज करती हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−

इसे भी पढ़ें: त्वचा के लिए रामबाण है पपीता, जानिए इसे लगाने की विधि और फायदे

इस थेरेपी का करती हैं इस्तेमाल

आपको जानकर हैरानी होगी कि उर्वशी रौतेला अपनी खूबसूरत स्किन के लिए मड थेरेपी या मड बाथ लेती हैं। इस बात का खुलासा खुद उर्वशी ने सोशल मीडिया पर किया है। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट इंस्टाग्राम पर मड बाथ लेते हुए अपनी एक तस्वीर पोस्ट की और साथ ही साथ मड बाथ से होने वाले कुछ फायदों के बारे में भी बताया। उर्वशी बताती हैं कि मिनरल्स युक्त मिट्टी त्वचा के लिए चिकित्सीय और अच्छी मानी जाती है। मड वास्तव में आपके लिए चमत्कार की तरह काम कर सकता है। मड बाथ को आज भी डिटॉक्सिफाई करने और अशुद्धियों को बाहर निकालने, त्वचा को कोमल बनाने, परिसंचरण में सुधार और दर्द और दर्द को कम करने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें: परफेक्ट लुक के लिए इन टिप्स की मदद से ठीक करें अपने ओवरप्लक आईब्रो

मिलते हैं यह फायदे

वैसे तो उर्वशी ने अपनी पोस्ट में मड थेरेपी के फायदों के बारे में बताया है। आज हम आपको इसके कुछ स्किन बेनिफिट्स के बारे में बता रहे हैं। आयुर्वेद के अनुसार, मिट्टी विषाक्त पदार्थों को दूर करती है और शरीर में पित्त के बुरे प्रभावों को नियंत्रित करती है। साथ ही, यह किसी भी अशुद्धियों की त्वचा को डिटॉक्सीफाई करता है, जिससे आपको नरम, तरोताजा त्वचा मिलती है। यह प्रदूषण के दौरान आपकी त्वचा को शुद्ध करने में भी आपकी मदद कर सकता है। इसके कूलिंग इफेक्ट्स के कारण समर्स में इस थेरेपी का इस्तेमाल करना काफी अच्छा माना जाता है। साथ ही यह डेड स्किन सेल्स को रिमूव करता है, जिससे आपकी त्वचा कोमल बनती है। वहीं यह हेल्थ के लिए भी उतना ही लाभकारी है। इस थेरेपी से पाचन तंत्र की समस्याओं से लेकर तनाव, सिरदर्द व आंखों की समस्याओं से भी राहत मिलती है।

मिताली जैन