The Kashmir Files: क्या फिल्म की कमाई कश्मीरी पंडितों को दान करेंगे विवेक अग्निहोत्री? पल्लवी जोशी ने दिया ये जवाब

The Kashmir Files: क्या फिल्म की कमाई कश्मीरी पंडितों को दान करेंगे विवेक अग्निहोत्री? पल्लवी जोशी ने दिया ये जवाब

पल्लवी जोशी ने कहा जब भी कोई प्रोड्यूसिर किसी फिल्म से पैसे कमाता है तो वो पैसे वह अपने अगले प्रोजेक्ट में लगाता है। मेरे और विवेक की तरह लोग फिल्में नहीं बनाते। उम्मीद करती हूं युवा लोग आगे आएंगे अगर फिल्म बनाते हुए उन्हें फंड दिक्कत महसूस होती है तो हम उनकी फिल्मों में पैसा लगाएंगे

कश्मीर फाइल्स जबसे रिलीज हुई है तब से यह फिल्म चर्चा का विषय बनी हुई है। इस फिल्म पर शुरू हुआ विवाद अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन सबके बीच फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की है। द कश्मीर फाइल्स 200 करोड़ का आंकड़ा पार कर चुकी है और 250 करोड़ क्लब में शामिल होने की ओर बढ़ रही है। फिल्म की सफलता को देखते हुए इतने दिनों से सोशल मीडिया पर यह सवाल पूछा जा रहा है कि क्या विवेक अग्निहोत्री कश्मीरी पंडित समुदाय को दान करेंगे? अब इन सवालों को लेकर विवेक अग्निहोत्री और पल्लवी जोशी ने अपनी चुप्पी तोड़ी है।

एक इंटरव्यू के दौरान विवेक अग्निहोत्री और पल्लवी जोशी से जब यह पूछा गया कि फिल्म 200, 300, 400 करोड़ बना रही है। क्या आप इस फिल्म के लाभ का कुछ हिस्सा कश्मीरी पंडितों के वेलफेयर फंड में दान देंगे? इस पर पल्लवी जोशी ने कहा यह चीज काफी दिनों से टि्वटर इंस्टाग्राम और अन्य सोशल मीडिया ऐप पर चल रही है, हर जगह विवेक के नाम से छापा गया। हमने जब से यह फिल्म बनाने की सोची तब से हम इस पर पैसा निवेश कर रहे हैं। इस प्रोजेक्ट को अपना समय दे रहे हैं, हम कश्मीरी पंडितों से बात कर रहे हैं, जितनी भी रिसर्च इस फिल्म के ऊपर की गई है वह सब हमने खुद के दम पर की है। हमारे पास इस फिल्म के लिए कोई प्रोड्यूसर नहीं था। हमने ताशकंद फाइल्स से जो भी कमाया सब इस फिल्म पर खर्च कर दिया।

विवेक अग्निहोत्री ने कहा हम बहुत सालों से कश्मीरी पंडित समुदाय के लिए काम कर रहे हैं। हम जब भी सर्विस का काम करते हैं तो मुझे इस पर ज्यादा बात करना अच्छा नहीं लगता। हम लंबे वक्त से काम कर रहे हैं और करते रहेंगे। यह हमारे और उनके बीच है। पल्लवी कहती हैं कि यह बहुत ही वल्गर सवाल है कि आपको 400 करोड़ मिलते हैं तो आप कितने देंगे?

पल्लवी जोशी ने कहा जब भी कोई प्रोड्यूसर किसी फिल्म से पैसे कमाता है तो वो पैसे वह अपने अगले प्रोजेक्ट में लगाता है। मेरे और विवेक की तरह लोग फिल्में नहीं बनाते। उम्मीद करती हूं युवा लोग आगे आएंगे अगर फिल्म बनाते हुए उन्हें फंड दिक्कत महसूस होती है तो हम उनकी फिल्मों में पैसा लगाएंगे। पल्लवी ने कहा अभी तो सफलता मिली है हम अभी कुछ योजना नहीं बना पाए हैं। इस पर विवेक अग्निहोत्री ने बताया कि कोरोना काल में हमने कश्मीरी पंडित समुदाय के लिए पैसा इकट्ठा किया था, हम जिनके लिए कर रहे हैं उनको पता है।

बताते चलें कि क्या कश्मीर पाइल्स 90 के दशक में घाटी पंडितों के साथ हुए अत्याचार और वहां से उनके पलायन को दिखाती है। इस फिल्म को जनता बहुत पसंद कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ कर चुके हैं और इसे देखने की अपील कर चुके हैं।