डीएलएफ को नई परियोजना से 1,800 करोड़ रुपये का बिक्री राजस्व मिलने की उम्मीद

DLF
Google Free License
डीएलएफ लिमिटेड के समूह कार्यकारी निदेशक एवं मुख्य व्यवसाय अधिकारी आकाश ओहरी ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा कि गुरुग्राम के डीएलएफ फेज-5 में यह नई लग्जरी परियोजना विकसित की जाएगी। इस परियोजना के तहत कुल 8.5 लाख वर्ग फुट क्षेत्र का विकास किया जाएगा और 292 आवास बनाए जाएंगे।

नयी दिल्ली। रियल एस्टेट क्षेत्र की दिग्गज कंपनी डीएलएफ ने गुरुग्राम में प्रस्तावित अपनी नई लग्जरी आवासीय परियोजना से करीब 1,800 करोड़ रुपये के बिक्री राजस्व का लक्ष्य रखा है। डीएलएफ लिमिटेड के समूह कार्यकारी निदेशक एवं मुख्य व्यवसाय अधिकारी आकाश ओहरी ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा कि गुरुग्राम के डीएलएफ फेज-5 में यह नई लग्जरी परियोजना विकसित की जाएगी। इस परियोजना के तहत कुल 8.5 लाख वर्ग फुट क्षेत्र का विकास किया जाएगा और 292 आवास बनाए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आंध्र प्रदेश-तेलंगाना विवाद सुलझाने के लिए 27 सितंबर को बुलाई बैठक

ओहरी ने कहा, हम इस परियोजना की इकाइयों की बिक्री से 1,700-1,800 करोड़ रुपये का राजस्व मिलने की उम्मीद कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने इस परियोजना के विकास पर किए जाने निवेश का ब्योरा नहीं दिया। उन्होंने कहा कि आवासीय बाजार में स्वतंत्र मंजिल वाली इकाइयों की मांग बढ़ रही है और अब अच्छे डेवलपर भी इस बाजार में कदम रख रहे हैं। उन्होंने बताया कि पिछले 20 महीनों में डीएलएफ ने भी 3,000 करोड़ रुपये मूल्य वाली स्वतंत्र मंजिल इकाइयों की बिक्री की है।

इसे भी पढ़ें: राजनीतिक सरगर्मियों के बीच पार्टी पर्यवेक्षक खड़गे से मिले अशोक गहलोत, बयानबाजी जारी

चालू वित्त वर्ष में डीएलएफ की कुल बिक्री बुकिंग की संभावना के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि कंपनी 8,000 करोड़ रुपये के अपने अनुमान पर टिकी हुई है। वित्त वर्ष 2021-22 में डीएलएफ ने 7,273 करोड़ रुपये की बिक्री बुकिंग की थी। डीएलएफ बाजार पूंजीकरण के लिहाज से भारत की सबसे बड़ी रियल एस्टेट कंपनी है। इसने अब तक 150 से भी अधिक रियल एस्टेट परियोजनाएं विकसित की हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़