लघु मझोले उद्यमों को बिना गिरवी के ऋण दें बैंक: गिरिराज सिंह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 26, 2019   09:17
लघु मझोले उद्यमों को बिना गिरवी के ऋण दें बैंक: गिरिराज सिंह

सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यम (एमएसएमई) मंत्री गिरिराज सिंह ने सोमवार को बैंकों से आग्रह किया कि वह एमएसएमई इकाइयों को कुछ भी गिरवी रखे बिना कर्ज उपलब्ध करायें।

नई दिल्ली। सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यम (एमएसएमई) मंत्री गिरिराज सिंह ने सोमवार को बैंकों से आग्रह किया कि वह एमएसएमई इकाइयों को कुछ भी गिरवी रखे बिना कर्ज उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि इससे देश में अधिक संख्या में नये उद्यमी तैयार होंगे और वे रोजगार के अधिक से अधिक अवसर पैदा कर सकेंगे। वह अपने मंत्रालय के राष्ट्रीय एससी- एसटी हब (अनुसूचित जाति-जन जाति केंद्र) द्वारा महिला उद्यमियों को अधिकार सम्पन्न बनाने के बारे में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: सैफुद्दीन सोज पर गिरिराज सिंह का हमला, कहा- अखंड भारत में नहीं करते विश्वास

उन्होंने कहा कि सरकार ने वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों के लिए बिना गिरवी के दिये जाने वाले कर्ज की सुविधा को बढ़ाकर 2 करोड़ रुपये कर दिया गया है। इससे 18 लाख से अधिक लोग लाभांन्वित हुए हैं। उन्होंने कहा , ‘बैंकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि छोटे उद्यमियों को उनकी जरूरत के हिसाब से पर्याप्त कर्ज मिल सके। सरकार ने बिना गिरवी के कर्ज की सीमा पहले ही बढ़ा कर दो करोड़ रुपये कर दी है। पहले यह छूट एक करोड़ रुपये तक के कर्ज पर थी। बैंकों को अब उद्यमियों का हाथ थामना चाहिए।’

इसे भी पढ़ें: महबूबा मुफ्ती पर भड़के गिरिराज, बोले- भारत का खाकर पाकिस्तान की ना गाएं

उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत पिछले महीने तक 18 लाख उद्यमियों को कर्ज दिया गया है। उम्मीद की जा रही है कि 31 मार्च 2019 की समाप्ति तक यह संख्या 20 लाख के पार पहुंच जायेगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।