जागरण प्रकाशन का चौथी तिमाही में मुनाफा सात गुना बढ़कर 39.90 करोड़ पर पहुंचा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 29, 2021   14:09
जागरण प्रकाशन का चौथी तिमाही में मुनाफा सात गुना बढ़कर 39.90 करोड़ पर पहुंचा

जागरण प्रकाशन का चौथी तिमाही में मुनाफा सात गुना बढ़कर 39.90 करोड़ पर पहुंचा।इस दौरान मुद्रण, प्रकाशन एवं डिजिटल कारोबार की आय 340.80 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले इसी तिमाही की 377.95 करोड़ रुपये की आय से 9.83 प्रतिशत कम है।

नयी दिल्ली। दैनिक जागरण के प्रकाशक जागरण प्रकाशन लिमिटेड ने शुक्रवार को बताया कि मार्च 2021 में समाप्त तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ सात गुना बढ़कर 39.90 करोड़ रूपए रहा। जागरण प्रकाशन ने शेयर बाजार को बताया कि पिछले वर्ष की इसी तिमाही के दौरान उसका शुद्ध लाभ 5.72 करोड़ रुपये था। उसकी कुल आय 2020-21 की जनवरी-मार्च तिमाही में 7.57 प्रतिशत घटकर 415.52 करोड़ रुपये रही, जो पिछले साल की इसी अवधि में 449.53 करोड़ रुपये थी। उसने बताया कि वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में उसका खर्च 18.1 प्रतिशत बढ़कर 357.57 करोड़ रुपये रहा, जो इससे पिछले वर्ष की समान अवधि में 436.56 करोड़ रुपये था।

इसे भी पढ़ें: राजस्व सचिव ने कहा, इस साल अर्थव्यवसथा पिछले साल के मुकाबले बेहतर स्थिति में

जागरण प्रकाशन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक महेंद्र मोहन गुप्ता ने कहा, ‘‘वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही के परिणाम पर टिपण्णी के दौरान मुझे उम्मीद थी कि कोरोना महामारी कम से कम भारत में ख़त्म होने के नजदीक है। लेकिन कोविड-19 की दूसरी लहर ने हम सभी को हिलाकर रख दिया और एक बार फिर व्यवसायों को बुरी तरह से प्रभावित किया और बड़ी संख्या में लोगों को गरीबी रेखा से नीचे धकेल रही है।’’ समूह के एफएम रेडियो कारोबार की आय 31 मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में 7.39 प्रतिशत घटकर 42.48 करोड़ रुपये रही, जो इससे पिछले वर्ष की इसी अवधि में 45.87 करोड़ रुपये थी।इस दौरान मुद्रण, प्रकाशन एवं डिजिटल कारोबार की आय 340.80 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले इसी तिमाही की 377.95 करोड़ रुपये की आय से 9.83 प्रतिशत कम है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

बिज़नेस

झरोखे से...