परमाणु ऊर्जा में है बिजली की बढ़ती मांग को पूरा करने की संभावना: वेंकैया नायडू

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 16 2019 4:47PM
परमाणु ऊर्जा में है बिजली की बढ़ती मांग को पूरा करने की संभावना: वेंकैया नायडू
Image Source: Google

परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय (एएमडी) के वैज्ञानिकों और कर्मचारियों को यहां संबोधित करते हुए नायडू ने कहा कि जलवायु परिवर्तन आज के समय में पर्यावरण की सबसे बड़ी चिंताओं में से एक है।

हैदराबाद। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने बृहस्पतिवार को कहा कि परमाणु ऊर्जा ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन को काफी घटा सकती है और ऊर्जा का यह स्रोत देश में बिजली की बढ़ती मांग को पूरा कर सकता है। परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय (एएमडी) के वैज्ञानिकों और कर्मचारियों को यहां संबोधित करते हुए नायडू ने कहा कि जलवायु परिवर्तन आज के समय में पर्यावरण की सबसे बड़ी चिंताओं में से एक है। इस कार्यक्रम का आयोजन संगठन के अन्वेषण एवं शोध के 70 वर्ष पूरे होने पर किया गया था।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: सेंसेक्स 204 अंक टूटा, निफ्टी 11,200 अंक से नीचे आया

उन्होंने कहा कि समय की मांग है कि आधुनिक प्रौद्योगिकी को सुरक्षित और भरोसेमंद बनाया जाए। परमाणु ऊर्जा एक भरोसेमंद और सुरक्षित विकल्प है। नायडू ने कहा कि परमाणु बिजली बहुत कम कार्बन उत्सर्जन प्रौद्योगिकी के जरिए पैदा की जाती है और यह ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन को घटा सकती है।

इसे भी पढ़ें: शेयर बाजार में नौ दिन की गिरावट पर ब्रेक, सेंसेक्स 228 अंक चढ़ा



उपराष्ट्रपति ने कहा कि परमाणु ऊर्जा में देश की ऊर्जा की बढ़ती मांग को पूरा करने की संभावना है। खासतौर पर ऐसे वक्त में जब हम एक राष्ट्र के रूप में जीवाश्म ईंधनों के प्रदूषण से निजात पाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें यह भी जानकारी दी गई है कि ‘रेयर अर्थ एलीमेंट्स’की बढ़ती जरूरतों को पूरा करने के लिए नायोबियम, टैंटलम, लिथियम और बेरिलियम जैसी ‘रेयर मेटल’का स्वदेशी प्रौद्योगिकी एवं विशेषज्ञता के आधार पर अन्वेषण किया जा रहा है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story