Zomato में भी छंटनी की तैयारी, करीब 3% कर्मचारियों को दिखाया जाएगा बाहर का रास्ता, सह-संस्थापक ने भी दिया इस्तीफा

Zomato
ANI
रेनू तिवारी । Nov 21, 2022 4:35PM
साल 2022 कई बड़ी कंपनियों के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ। जैसे ही ट्विटर का अधिग्रहण एलोन मस्क ने किया वहां पर बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छंटनी की गयी। इसके बाद मेटा, गूगल, स्नैपचैट अमेजम सहित कई कंपनियों ने छंटनी शुरू कर दी।

साल 2022 कई बड़ी कंपनियों के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ। जैसे ही ट्विटर का अधिग्रहण एलोन मस्क ने किया वहां पर बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की छंटनी की गयी।  इसके बाद मेटा, गूगल, स्नैपचैट अमेजम सहित कई कंपनियों ने छंटनी शुरू कर दी। अह इस कतार में फूड डिलीवरी एग्रीगेटर Zomato का भी नाम जुड़ गया हैं। फूड डिलीवरी एग्रीगेटर Zomato सभी विभागों के कई कर्मचारियों को कंपनी छोड़ने के लिए कह रहा है। कहा जा रहा है कि छंटनी की ताजा कड़ी में कंपनी करीब 3 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी कर रही है। छंटनी का असर विभिन्न विभागों पर पड़ा है।

इसे भी पढ़ें: गुजरात में राहुल गांधी ने किया प्रचार का आगाज, आदिवासी, युवा, और किसानों का उठाया मुद्दा

 लाइवमिंट पर छपी खबर के अनुसार कपंनी से जुड़े एक व्यक्ति ने कहा कि प्रौद्योगिकी, उत्पाद और विपणन सहित कई विभाग छंटनी से प्रभावित हुए हैं। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि छंटनी "एक नियमित प्रदर्शन-आधारित मंथन" का एक हिस्सा है। Zomato के प्रवक्ता ने कहा, "हमारे कार्यबल के 3 प्रतिशत से कम का नियमित प्रदर्शन-आधारित मंथन हुआ है। इससे ज्यादा कुछ नहीं है।" मई 2020 में, कोरोनोवायरस महामारी के बाद व्यापार में गिरावट के कारण, खाद्य वितरण ऐप ने लगभग 520 कर्मचारियों को, लगभग 13 प्रतिशत कार्यबल को हटा दिया गया था। अब, नवीनतम छंटनी के दौर के बाद, Zomato के पास लगभग 3,800 कर्मचारी हैं।

इसे भी पढ़ें: FIFA WorldCup में मैच से पहले लगा ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका, टूर्नामेंट से बाहर हुआ ये खिलाड़ी

इसके अलावा Zomato के सह-संस्थापक मोहित गुप्ता ने भी कंपनी को छोड़ दिया हैं। गुप्ता के बाहर निकलने पर टिप्पणी करते हुए, ज़ोमैटो के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी दीपिंदर गोयल ने एक नोट में कहा, "एमजी (मोहित गुप्ता) - आप पिछले कुछ वर्षों में मेरे भाई और दोस्त रहे हैं। आपने यहां जबरदस्त काम किया है, हमें विलुप्त होने के कगार से वापस लाया है, व्यापार को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया है, हमें लाभप्रदता तक पहुंचाया है, और सबसे बढ़कर, इतने बड़े और जटिल व्यवसाय को चलाने में सक्षम बनने के लिए वर्षों से प्रशिक्षित किया है। गुप्ता के इस्तीफे के बाद राहुल गंजू (इंटरसिटी लीजेंड्स सर्विस के पूर्व प्रमुख) और सिद्धार्थ झावर (इंटरसिटी लीजेंड्स सर्विस के पूर्व प्रमुख) की विदाई हुई।

 

स्टार्टअप और टेक उद्योग दोनों ही इस समय कठिन दौर से गुजर रहे हैं। Amazon, Meta और Twitter समेत बड़ी टेक कंपनियों ने भारत समेत दुनिया भर से हजारों कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है। नवीनतम रिपोर्टों से पता चलता है कि नए ट्विटर बॉस एलोन मस्क ने आज और अधिक कर्मचारियों को निकालने की योजना बनाई है। मस्क ने पहले ही 50 प्रतिशत कर्मचारियों को निकाल दिया है, उसके बाद 4000 संविदा कर्मचारी और कुछ ने बॉस से सवाल किया है। इसके अलावा, मस्क के "कट्टर" कार्य संस्कृति के लिए तैयार होने के अल्टीमेटम मेल के बाद 1200 से अधिक ट्विटर कर्मचारियों ने इस्तीफा दे दिया।

अन्य न्यूज़