• 184 अंक उछलकर नए रिकॉर्ड स्तर पर सेंसेक्स, निफ्टी 12,000 अंक के पार

तिमाही के दौरान कंपनी ने 1,064.09 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है। इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, एशियन पेंट्स, एचडीएफसी और इन्फोसिस के शेयर 2.88 प्रतिशत तक के लाभ में रहे।

मुंबई। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 184 अंक के उछाल के साथ 40,654 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी करीब पांच माह बाद फिर 12,000 अंक के पार निकल गया। निवेशक सरकार के नए सुधार उपायों से उत्साहित हैं। इसके अलावा अमेरिका-चीन व्यापार वार्ता की प्रगति से भी बाजार में तेजी का रुख रहा। 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान के 40,688.27 अंक की नयी ऊंचाई छूने के बाद अंत में 183.96 अंक यानी 0.45 प्रतिशत की बढ़त के साथ 40,653.74 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 46 अंक यानी 0.38 प्रतिशत की बढ़त के साथ 12,000 अंक के आंकड़े को पार करता हुआ 12,012.05 अंक पर बंद हुआ।  सरकार ने बुधवार को आवास क्षेत्र को राहत देते हुए 1,600 अटकी पड़ी आवासीय परियोजनाओं को पूरा करने के लिए 25,000 करोड़ रुपये का कोष बनाने की मंजूरी दी है। इससे कारोबारी धारणा मजबूत हुई। विशेषज्ञों का कहना है कि इस नए पैकेज से अन्य संबंधित उद्योगों पर भी सकारात्मक असर पड़ेगा।उन्होंने कहा कि इसके अलावा कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजों और विदेशी कोषों के सतत प्रवाह से भी घरेलू बाजार की धारणा मजबूत बनी रही।  चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने कहा है कि उसकी अमेरिका के साथ वस्तुओं पर लगाये गये अतिरिक्त शुल्क को चरणबद्ध ढंग से हटाने को लेकर सहमति बन गई है। इससे वैश्विक बाजारों में तेजी रही। सेंसेक्स की कंपनियों में सनफार्मा में सबसे अधिक 3.02 प्रतिशत का लाभ रहा। सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी एक बार फिर से मुनाफे की स्थिति में लौटी है।

इसे भी पढ़ें: हरे निशान के साथ खुला सेंसेक्स, निफ्टी भी 12000 के पार

तिमाही के दौरान कंपनी ने 1,064.09 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है। इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, एशियन पेंट्स, एचडीएफसी और इन्फोसिस के शेयर 2.88 प्रतिशत तक के लाभ में रहे। वहीं दूसरी ओर येस बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, ओएनजीसी, टाटा मोटर्स, एक्सिस बैंक, एलएंडटी और एनटीपीसी के शेयर 3.27 प्रतिशत तक टूट गए। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘सुधारों और बेहतर तिमाही नतीजों से बाजार में तेजी बरकरार रही। इसके अलावा आवास क्षेत्र को राहत के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदम से भी बाजार पर सकारात्मक असर पड़ा। इस प्रस्तावित उपाय से अटकी परियोजनाएं पर काम शुरू हो सकेगा। इसका सकारात्मक असर अन्य संबद्ध क्षेत्रों मसलन एनबीएफसी, बैंक और सीमेंट पर भी पड़ेगा।’’  बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप 0.69 प्रतिशत के लाभ के साथ बंद हुए।  चीन का शंघाई, हांगकांग का हैंगसेंग, जापान का तोक्यो और दक्षिण कोरिया का सियोल बाजार सकारात्मक रुख के साथ बंद हुआ। यूरोपीय बाजार भी शुरुआती कारोबार में बढ़त में चल रहे थे।  इस बीच, अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में रुपया पांच पैसे की बढ़त के साथ 70.92 प्रति डॉलर पर चल रहा था।  ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 1.38 प्रतिशत की बढ़त के साथ 62.59 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था।