कोरोना के खिलाफ लड़ाई में Twitter CEO जैक डोरसे ने भारत को दिया 110 करोड रुपए का दान

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में Twitter CEO जैक डोरसे ने भारत को दिया 110 करोड रुपए का दान

केयर को 10 मिलियन डॉलर, ऐड इंडिया को 2.5 मिलियन डॉलर और सेवा इंटरनेशनल को 2.5 मिलियन डॉलर दिया गया है। आपको बता दें कि सेवा इंटरनेशनल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अनुषांगिक संगठन सेवा भारती की एक इकाई है।

भारत में बढ़ते कोरोना वायरस महामारी के बीच अब लोग मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। सोशल मीडिया दिग्गज टि्वटर के सीईओ जैक डोरसे ने भी भारत में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर 15 मिलियन डॉलर यानी कि 110 करोड़ रुपए दान में दी है। इस बात की जानकारी स्वयं जैक डोरसे ने ट्वीट कर दी। अपने ट्वीट में जैक डोरसे ने बताया कि उन्होंने 3 गैर सरकारी संगठन केयर, ऐड इंडिया और सेवा इंटरनेशनल को यह धनराशि दी है। इस बड़े धनराशि का करीब दो तिहाई हिस्सा केयर को और बाकी एक तिहाई हिस्सा अन्य दो एनजीओ को बराबर बराबर दिया गया है। केयर को 10 मिलियन डॉलर, ऐड इंडिया को 2.5 मिलियन डॉलर और सेवा इंटरनेशनल को 2.5 मिलियन डॉलर दिया गया है। आपको बता दें कि सेवा इंटरनेशनल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अनुषांगिक संगठन सेवा भारती की एक इकाई है।

जैसे ही आरएसएस से जुड़े एनजीओ के को जैक डोरसे की ओर से फंड देने की बात सामने आई वैसे ही इसको लेकर सवाल उठाए जाने शुरू हो गए। एक ट्विटर यूजर सरजील उस्मानी ने लिखा कि अब तक हम में से बहुत से लोग सेवा इंटरनेशनल ममें लोगों से दान नहीं करने के लिए अभियान चला रहे थे और चेतावनी दे रहे थे। एक और ट्वीट में एक यूजर ने लिखा कि भारत के लिए जैक डोरसे के दान का एक हिस्सा सेवा भारती को चला गया, यहां से नाराजगी शुरू होगी। आपको बता दें कि पिछले साल अप्रैल में दुनिया भर में कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को फंड करने के लिए जेट ने एक एलएलसी का गठन किया था। पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए इसके लिए एक गूगल सीट भी तैयार की गई थी। जैक डोरसे ने इसमें लगभग 1 अरब डॉलर का निवेश भी किया था। गूगल सीट में सेवा इंटरनेशनल के बारे में लिखा है कि सेवा इंटरनेशनल एक हिंदू आस्था आधारित मानवतावादी गैर-लाभकारी सेवा संगठन है। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना महामारी के दौर में घर-घर जाकर स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग कर रहा है आरएसएस

यह अनुदान सेवा इंटरनेशनल के हेल्थ इंडिया डिफीट कोविड-19 अभियान के हिस्से के रूप में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, वेंटिलेटर बाई पैक और सीपीएपी मशीनों जैसे जीवन रक्षक उपकरणों की खरीद के लिए है। उपकरण सरकारी अस्पतालों और कोविड-19 देखभाल केंद्रों और अस्पताल में वितरित किए जाएंगे। टेक्सास में स्थित सेवा इंटरनेशनल ने अपनी साइट पर दी गई जानकारी के अनुसार अपने प्रयासों से भारत में को विधायक के लिए लगभग 7 मिलियन डॉलर से अधिक धनराशि जुटा लिए है। सेवा इंटरनेशनल के उपाध्यक्ष संदीप खडकेकर ने जैक डोरसे को उनके उदार दान के लिए धन्यवाद कहा है।  खडकेकर ने कहा कि हम एक स्वयंसेवक संचालित गैर लाभकारी संगठन है और हम हिंदू पद्धति के अनुसार सभी की सेवा करते हैं और सर्वे भवंतू सुखिन: के रास्ते पर चलते हैं। सेवा इंटरनेशनल ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि शुक्रिया जैक डोरसे, हमारे स्वयंसेवक दिन रात काम कर रहे हैं ताकि जरूरतमंद लोगों की मदद की जा सके। हम आप के समर्थन की सराहना करते हैं। ट्विटर की ओर से यह मदद तब आया है जब कंगना रनौत के ट्विटर अकाउंट को निलंबित कर दिया गया है। इसके बाद ट्विटर पर ये आरोप लगने लगे थे कि वह दक्षिणपंथी आवाजों को दबाने की कोशिश कर रहा है।







This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept