जानिए क्या है Manipulated Media और Twitter कैसे करता है उनको टैग?

जानिए क्या है Manipulated Media और Twitter कैसे करता है उनको टैग?

बता दें कि पात्रा द्वारा 18 मई को पोस्ट किए गए ट्वीट में, उन्होंने प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस पार्टी के एक कथित 'टूलकिट' के स्क्रीनशॉट साझा किए थे, जिसका उन्होंने दावा किया था कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था।

जब से भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीटर पर टूलकिट जारी की है तब से माहौल काफी गरमाया हुआ है। बता दें कि माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के "कांग्रेस टूलकिट" ट्वीट को "हेरफेर मीडिया" यानि कि Manipulative के रूप में चिह्नित कर दिया था। बता दें कि पात्रा द्वारा 18 मई को पोस्ट किए गए ट्वीट में, उन्होंने प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस पार्टी के एक कथित 'टूलकिट' के स्क्रीनशॉट साझा किए थे, जिसका उन्होंने दावा किया था कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था। ट्वीटर द्वारा किए गए इस दखल से सरकार ने भी अपनी आपत्ति जताई थी। टीओआई में छपी एक खबर के मुताबिक, सोमवार को इसी मामले को लेकर दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ट्वीटर के ऑफिस भी पहुंची थी। बता दें कि यह खबर सोशल मीडिया पर इतनी तेजी से फैली  कि  हैश टैग "मैनिपुलेटेड मीडिया" 17k से अधिक पोस्ट ट्वीटर पर टॉप पर ट्रेंड करने लगा। आखिर क्या है यह मैनिपुलेटेड मीडिया जिससे अब ट्वीटर और सरकार के बीच काफी गतिरोध पैदा हो गया है। आइये जान लेते

 

क्या है हेराफेरी मीडिया?

ट्विटर किसी भी मीडिया (वीडियो, ऑडियो और तस्वीरों) को परिभाषित करता है जिसे भ्रामक रूप से बदल दिया गया है या हेरफेर की गई हो। ट्वीट्स को इस श्रेणी के तहत लेबल किया जाता है, जब वे "नुकसान पहुंचाने की संभावना" होते हैं। सरल शब्दों में समझे तो ट्विटर नीति के अनुसार, "ट्वीट्स जिनमें मीडिया (वीडियो, ऑडियो और चित्र) शामिल हैं, अगर भ्रामक रूप से बदला जाता है तो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म द्वारा फ़्लैग किए जाते हैं।

Twitter कैसे टैग करता है?

ट्विटर का कहना है कि वह सामग्री को लेबल करने में टेक्नॉलिजी और Human एक्सपर्ट दोनों की भूमिका होती है।कंपनी ने एक ब्लॉग में समझाया कि, "यह निर्धारित करने के लिए कि क्या मीडिया को महत्वपूर्ण रूप से और भ्रामक रूप से बदल दिया गया है, हम अपनी तकनीक का उपयोग कर सकते हैं या तीसरे पक्ष के साथ साझेदारी के माध्यम से रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं,"।

छेड़छाड़ की गई सामग्री के खिलाफ Twitter की कार्रवाई?

संभावित नुकसान के आधार पर, ट्विटर या तो सामग्री को लेबल करता है या उन्हें हटा देता है। कंपनी ऐसी सामग्री की दृश्यता भी कम करती है, और यूजर को चेतावनी देती है कि "बार-बार उल्लंघन" के कारण उनके अकाउंट स्थायी रूप से निलंबित हो सकते हैं।