आल राउंडर विकल्पों की कमी टीम के संतुलन को प्रभावित कर रही: कोहली

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   19:34
आल राउंडर विकल्पों की कमी टीम के संतुलन को प्रभावित कर रही: कोहली

स्टीव स्मिथ को ‘प्लेयर आफ द मैच’ चुना गया, जिन्होंने कहा कि सलामी बल्लेबाज फिंच (114) और डेविड वार्नर (69) ने उन्हें 66 गेंद में 105 रन बनाने में मदद की जिससे आस्ट्रेलिया ने छह विकेट पर 375 रन बनाये।

सिडनी। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरूआती वनडे में मिली हार के बाद अपनी टीम के हाव भाव पर सवाल उठाये और कहा कि हार्दिक पंड्या का गेंदबाजी के लिये फिट नहीं होने से टीम का संतुलन प्रभावित हो रहा है क्योंकि उनके पास ज्यादा आल राउंडर मौजूद नहीं हैं। भारत की आस्ट्रेलिया दौरे की शुरूआत निराशाजनक हुई, उसे यहां पहले वनडे में 66 रन से हार का सामना करना पड़ा। कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘हर किसी को पूरे 50 ओवरों में अपना जज्बा दिखाने की जरूरत होती है। शायद, हम लंबे समय बाद 50 ओवर के क्रिकेट में खेले जिसका असर मैदान में खड़े खिलाड़ियों पर पड़ सकता है लेकिन हमने इतना वनडे क्रिकेट खेला है कि हम इससे निपटना जानते हैं। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि मैदान पर 25 ओवर के बाद खिलाड़ियों के हाव भाव अच्छे नहीं थे। यह निराशाजनक चीज है। अगर आप शीर्ष स्तर की प्रतिद्वंद्वी टीम के खिलाफ मौकों का फायदा नहीं उठाओगे तो वे आपको नुकसान पहुंचा देंगे और आज ऐसा ही हुआ। ’’ हार्दिक पंड्या गेंदबाजी के लिये अभी फिट नहीं हैं तो कोहली ने कहा कि इससे टीम के संतुलन पर असर पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें कामचलाऊ गेंदबाजों से कुछ ओवर करवाने के लिये एक तरीका ढूंढना होगा। दुर्भाग्य से हार्दिक जैसा खिलाड़ी अभी गेंदबाजी के लिये तैयार नहीं है, हमें यह स्वीकार करना होगा, हमारे पास इस समय कोई अन्य आल राउंड विकल्प मौजूद नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस चीज पर ध्यान देने की जरूरत है, यह किसी भी टीम के संतुलन का अहम हिस्सा है। मार्कस स्टोइनिस, ग्लेन मैक्सवेल आस्ट्रेलिया के लिये कुछ ओवर डाल रहे हैं, जिससे उन्हें मदद मिली।’’ कोहली ने कहा कि उनके गेंदबाज नियमित अंतराल पर विकेट नहीं चटका सके जिससे आस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर बनाने में मदद मिली। उन्होंने कहा, ‘‘मैच जीतने में विकेट चटकाना सबसे अहम है, और हम यही नहीं कर सके, साथ ही मैदान पर कुछ गलतियों से भी हमने शुरू में जो दबाव बनाया था, उसका फायदा नहीं उठा सके। ’’ यह पूछने पर कि क्या संयुक्त अरब अमीरात से आस्ट्रेलिया पहुंचकर पृथकवास में रहने से टीम का प्रदर्शन प्रभावित हुआ तो उन्होंने कहा कि यह कोई बहाना नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘तैयारी के लिये काफी समय मिला। इसके लिये कोई बहाना नहीं बनाया जा सकता।’’ 

इसे भी पढ़ें: खराब गेंदबाजी और स्टार बल्लेबाजों की नाकामी से पहला वनडे हारा भारत

भारत के लिये शिखर धवन (74) और हार्दिक (90) शीर्ष स्कोरर रहे। बल्लेबाजी इकाई के बारे में बात करते हुए कोहली ने कहा, ‘‘बल्लेबाजी के लिये हमने अभी थोड़ी बात की। सभी बल्लेबाज खेलने के लिये प्रतिबद्ध थे, मुझे लगता है कि हमने खुद को अच्छा मौका दिया। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हार्दिक की पारी इसका सबसे अच्छा उदाहरण है। बल्लेबाजी इकाई के तौर पर हम सकारात्मक क्रिकेट खेलने के प्रति प्रतिबद्ध थे और हम भविष्य में भी ऐसा ही करेंगे। ’’ वहीं आस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान आरोन फिंच ने कहा कि उन्होंने पारी के शुरू में थोड़ा समय लिया। उन्होंने कहा, ‘‘टाइमिंग के साथ बल्लेबाजी करने में मुश्किल हो रही थी। कुछ मौकों पर भाग्यशाली रहा। ’’ फिंच ने अपने खिलाड़ियों के इस प्रदर्शन के लिये प्रशंसा की जबकि वे बतौर टीम ज्यादा ट्रेनिंग भी नहीं कर पाये थे। उन्होंने कहा, ‘‘हमें बतौर टीम ज्यादा समय ट्रेनिंग के लिये नहीं मिला। हर खिलाड़ी कीमजबूती और कमजोरी अलग होत है। आप इसे स्वीकार करते हो। डेवी, वह शानदार लय में था। स्मज भी बेहतरीन था। ’’ स्टीव स्मिथ को ‘प्लेयर आफ द मैच’ चुना गया, जिन्होंने कहा कि सलामी बल्लेबाज फिंच (114) और डेविड वार्नर (69) ने उन्हें 66 गेंद में 105 रन बनाने में मदद की जिससे आस्ट्रेलिया ने छह विकेट पर 375 रन बनाये।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।