• पाकिस्तान के इन खिलाड़ियों को मिलेगी ‘ए’ श्रेणी के खिलाड़ियों के समान मैच फीस

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने मलिक, हफीज, रियाज और आमिर को ‘ए’ श्रेणी के खिलाड़ियों के समान मैच फीस देने का ऐलान किया है।एक सूत्र ने बताया, कि इन चारों खिलाड़ियों ने बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वसीम खान से कहा था कि केन्द्रीय अनुबंध नहीं मिलने के बाद भी उनके साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है।

कराची। सीनियर क्रिकेटरों शोएब मलिक, मोहम्मद हफीज, वहाब रियाज और मोहम्मद आमिर को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा केंद्रीय अनुबंध नहीं मिलने के बाद मैच फीस में बढ़ोतरी की गयी है। इन चारों खिलाड़ियों को सूचित किया गया है कि चूंकि उनके पास केंद्रीय अनुबंध नहीं है, इसलिए उन्हें अब ‘ए’ श्रेणी के क्रिकेटरों को मिलने वाली मैच फीस मिलेगी। इससे पहले उन्हें ‘सी’ श्रेणी के क्रिकेटरों के बराबर भुगतान किया जा रहा था। इस मामले की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने बताया, ‘‘ इन चारों खिलाड़ियों ने बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वसीम खान से कहा था कि केन्द्रीय अनुबंध नहीं मिलने के बाद भी उनके साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है और उन्हें सीनियर खिलाड़ियों के शीर्ष श्रेणी वाली मैच फी नहीं दी जा रही है।’’

इसे भी पढ़ें: बंगाल टी-20 चैलेंज से पहले तीन क्रिकेटर और एक अधिकारी कोविड पॉजिटिव

सूत्र ने कहा, ‘‘इससे पहले केन्द्रीय अनुबंध नहीं होने के कारण उन्हें सी श्रेणी के खिलाड़ियों के बार मैच फीस का भुगतान हो रहा था, जिसमें एकदिवसीय के लिए लगभग 2,02,000 रूपये (पाकिस्तानी) और टी20 अंतरराष्ट्रीय के लिए इससे कुछ कम रकम का प्रावधान है। अब उन्हें ए श्रेणी के खिलाड़ियों के बराबर मैच फीस मिलेगी। इसमें एकदिवसीय के लिए 4,60,000 रूपये और टी20 अंतरराष्ट्रीय के लिए 3,30,000 रूपये प्रतिमैच फीस का प्रावधान है।’’ बोर्ड ने हालांकि खिलाड़ियों के एक और अनुरोध को खारिज कर दिया जिसमें उन्हें राष्ट्रीय टीम के साथ होने के कारण विदेशी टी20 लीग में भाग नहीं लेने पाने पर मुआवजे की मांग की थी। उन्होंने बताया, ‘‘बोर्ड ने कहा है कि वह इसके लिए कोई मुआवजा नहीं दे सकता है और खिलाड़ियों को राष्ट्रीय कर्तव्य को प्राथमिकता देनी है।’’ हाल ही में न्यूजीलैंड दौरे के लिए टीम में शामिल किए जाने के बाद हाफिज को श्रीलंका प्रीमियर लीग से हटना पड़ा जिससे उन्हें लगभग एक करोड़ रूपये का नुकसान उठाना पड़ा। बोर्ड ने न्यूजीलैंड दौरे पर देर से टीम से जुड़नी की उनकी अपील को भी खारिज कर दिया।