सैमसन-स्टोक्स के सामने नहीं चला मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों का जलवा, हार पर क्या बोले हार्दिक पंड्या?

hardik pandya
मुंबई इंडियन्स के आलराउंडर हार्दिक पंड्या ने कहा कि स्टोक्स और सैमसन के सामने हमारे गेंदबाजों के पास ज्यादा विकल्प नहीं थे।‘‘कई बार आपको विरोधी टीम को भी श्रेय देना चाहिए और मुझे लगता है कि उन्होंने वास्तव में बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। हमारे गेंदबाजों के पास करने के लिये कुछ खास नहीं था।

अबुधाबी। मुंबई इंडियन्स के आलराउंडर हार्दिक पंड्या ने कहा कि राजस्थान रॉयल्स के बेन स्टोक्स और संजू सैमसन की आक्रामक बल्लेबाजी के सामने उनके गेंदबाजों के सामने ज्यादा विकल्प नहीं थे। पंड्या के 21 गेंदों पर नाबाद 60 रन की मदद से मुंबई ने पांच विकेट पर 195 रन बनाये लेकिन स्टोक्स (नाबाद 107) और सैमसन (नाबाद 54) ने तीसरे विकेट के लिये 152 रन की अटूट साझेदारी करके राजस्थान को आठ विकेट से जीत दिलायी। पंड्या ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘कई बार आपको विरोधी टीम को भी श्रेय देना चाहिए और मुझे लगता है कि उन्होंने वास्तव में बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। हमारे गेंदबाजों के पास करने के लिये कुछ खास नहीं था। उनका कौशल और उसका अच्छी तरह से उपयोग करना उनके (राजस्थान के बल्लेबाजों) पक्ष में गया। बल्लेबाजी में वे आज हमसे बेहतर थे। ’’

इसे भी पढ़ें: एशियाई ऑनलाइन टीम शतरंज: भारतीय पुरुष-महिला टीम फाइनल में पहुंची

बड़ौदा के इस खिलाड़ी ने अपनी पारी सात छक्के और दो चौके लगाये। उन्होंने कहा कि उनकी टीम ने पर्याप्त स्कोर बनाया था लेकिन राजस्थान अगर लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल कर पाया तो इसका श्रेय स्टोक्स और सैमसन को जाता। पंड्या ने कहा, ‘‘छक्के जड़ने में आनंद आता है। मुझे लगता है कि हमने पर्याप्त स्कोर बनाया था। शुरू में जब दूसरी बार टाइम आउट लिया गया था तो हम 165-170 तक स्कोर पहुंचाने के बारे में सोच रहे थे। निश्चित तौर पर हमने 25 रन अधिक बनाये थे और हमें लग रहा था कि यह पर्याप्त था लेकिन स्टोक्स और संजू को श्रेय जाता है। उन्होंने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। ’’ इस हार के बावजूद मुंबई 14 अंक लेकर तालिका में शीर्ष पर है और पंड्या ने कहा कि टीम शीर्ष दो में स्थान हासिल करने पर ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इस मैच से हमें अपनी गलतियों में सुधार करना चाहिए। हमें अपने सकारात्मक पहलुओं पर ध्यान देना चाहिए। हम अब भी शीर्ष पर हैं। हमें शीर्ष दो में जगह बनाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़