राजस्थान रॉयल्स की आरसीबी पर जीत में चमके पराग और सेन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2022   07:29
राजस्थान रॉयल्स की आरसीबी पर जीत में चमके पराग और सेन
ANI Photo.

आरसीबी के गेंदबाजों ने भी अच्छी गेंदबाजी की थी। उसकी तरफ से जोश हेजलवुड (19 रन देकर दो), वानिंदु हसरंगा (23 रन देकर दो) और मोहम्मद सिराज (30 रन देकर दो) सबसे सफल गेंदबाज रहे लेकिन उसका क्षेत्ररक्षण अच्छा नहीं रहा। पराग को ही 32 रन के निजी योग पर हसरंगा ने जीवनदान दिया।

पुणे|  रियान पराग के नाबाद अर्धशतक और उम्दा क्षेत्ररक्षण तथा कुलदीप सेन के चार विकेट की मदद से राजस्थान रॉयल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मंगलवार को यहां रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) को 29 रन से हराकर अपने इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ लगातार हार का सिलसिला तोड़ा। राजस्थान टॉस गंवाने के बाद पराग के नाबाद अर्धशतक के बावजूद आठ विकेट पर 144 रन ही बना पाया था।

आरसीबी के लिये हालांकि यह स्कोर भी पहाड़ जैसा बन गया और उसकी टीम 19.3 ओवर में 115 रन पर सिमट गयी। राजस्थान की आरसीबी के खिलाफ 2020 से लगातार पांच मैच गंवाने के बाद यह पहली जीत है। वर्तमान आईपीएल में यह उसकी आठ मैचों में छठी जीत है और वह 12 अंक के साथ शीर्ष पर पहुंच गया है।

आरसीबी की यह नौ मैचों में चौथी हार है। पराग ने 31 गेंदों नाबाद 56 रन बनाये जिसमें तीन चौके और चार छक्के शामिल हैं। कप्तान संजू सैमसन ने 21 गेंदों पर 27 रन बनाये।

बीच में 44 गेंद तक कोई चौका या छक्का नहीं लगा लेकिन पराग के प्रयासों से आखिरी दो ओवरों में 30 रन बने। पराग ने बाद में चार बेहतरीन कैच भी लिये। तेज गेंदबाज सेन ने 20 रन देकर चार विकेट लिये जो उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। अनुभवी ऑफ स्पिनर अश्विन ने 17 रन देकर तीन जबकि प्रसिद्ध कृष्णा ने 23 रन देकर दो विकेट लेकर राजस्थान की जीत में योगदान दिया।

आरसीबी के गेंदबाजों ने भी अच्छी गेंदबाजी की थी। उसकी तरफ से जोश हेजलवुड (19 रन देकर दो), वानिंदु हसरंगा (23 रन देकर दो) और मोहम्मद सिराज (30 रन देकर दो) सबसे सफल गेंदबाज रहे लेकिन उसका क्षेत्ररक्षण अच्छा नहीं रहा। पराग को ही 32 रन के निजी योग पर हसरंगा ने जीवनदान दिया। आरसीबी के बल्लेबाज भी नहीं चले। उसके केवल चार बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे। उसने पावरप्ले में विराट कोहली (नौ) का विकेट खोकर 37 रन बनाये जो अगले ओवर में तीन विकेट पर 37 रन हो गया।

सेन ने कप्तान फाफ डुप्लेसी (21 गेंदों पर 23) और ग्लेन मैक्सवेल (शून्य) को लगातार गेंदों पर पवेलियन भेजकर आरसीबी के खेमे में खलबली मचा दी। पिछले दो मैचों में पहली गेंद पर आउट होने वाले कोहली सलामी बल्लेबाज के रूप में उतरे। उन्होंने ट्रेंट बोल्ट पर दो चौके लगाये लेकिन कृष्णा की गेंद उनके बल्ले को चूमने के बाद हेलमेट से टकराकर बैकवर्ड प्वाइंट पर पराग के हाथों में समा गयी।

डुप्लेसी ने कवर पर जबकि मैक्सवेल ने स्लिप में आसान कैच दिये। अश्विन ने रजत पाटीदार (16) को बोल्ड करके आईपीएल में अपना 150वां विकेट लिया और सुयश प्रभुदेसाई (दो) को सीमा रेखा के पास कैच कराया। अब दारोमदार दिनेश कार्तिक (छह) पर था, लेकिन शाहबाज अहमद ने उन्हें आधी पिच से वापस भेजकर रन आउट करा दिया। युजवेंद्र चहल पहली बार में चूकने के बाद उन्हें रन आउट किया। शाहबाज 27 गेंदों पर 17 रन ही बना पाये। पराग ने उनका बेहतरीन कैच लेकर अश्विन को तीसरा विकेट दिलाया। सेन ने हसरंगा (18) और हर्षल पटेल (आठ) के विकेट लेकर मैच में चार विकेट लेने का कारनामा पूरा किया। इससे पहले राजस्थान ने पावरप्ले में तीन विकेट गंवा दिये जिनमें शानदार फॉर्म में चल रहे जोस बटलर भी शामिल थे जो केवल आठ रन बना पाये।

देवदत्त पडिक्कल (सात) आउट होने वाले पहले बल्लेबाज थे जिन्होंने सिराज का स्वागत खूबसूरत छक्के से किया। इस तेज गेंदबाज ने हालांकि उन्हें तुरंत ही पगबाधा आउट कर दिया। ‘

पिंच हिटर’ के रूप में उतरे रविचंद्रन अश्विन (नौ गेंदों पर 17 रन) ने सिराज पर चार चौके लगाकर अपनी भूमिका साबित करने की कोशिश की लेकिन वह इसी गेंदबाज को हवा में लहराता कैच देकर पवेलियन लौट गये। हेजलवुड ने आरसीबी को बटलर का कीमती विकेट दिलाया जिन्होंने शॉर्ट पिच गेंद को पुल करने के प्रयास में मिड ऑन पर सिराज को आसान कैच दिया। राजस्थान ने पावरप्ले में तीन विकेट पर 43 रन बनाये। सैमसन ने आरसीबी के स्पिनरों की लय बिगाड़ने की रणनीति अपनायी। उन्होंने लेग स्पिनर हसरंगा पर छक्के से शुरुआत की और फिर बायें हाथ के स्पिनर शाहबाज अहमद (तीन ओवर में 35 रन) पर लगातार दो छक्के लगाये।

सैमसन हालांकि अपनी लय बरकरार नहीं रख पाये और उन्होंने हसरंगा पर लापरवाह अंदाज में रिवर्स स्वीप करने के प्रयास में जल्द ही अपना ऑफ स्टंप उखड़वा दिया।

डेरिल मिचेल (16) ने 24 गेंदों का सामना किया लेकिन वे एक बार भी गेंद को सीमा रेखा तक नहीं पहुंचा पाये। इसी दबाव में उन्होंने हेजलवुड को अपना विकेट इनाम में दिया। शिमरोन हेटमायर ने भी ‘बाउंड्री का सूखा’ समाप्त करने के प्रयास में हसरंगा की गेंद हवा में लहराकर आते ही पवेलियन की राह पकड़ी।

पराग ने हालांकि 19वें ओवर में हेजलवुड पर छक्का और चौका तथा हर्षल पटेल के आखिरी ओवर में चौका और दो छक्के लगाकर राजस्थान को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।