क्या है डिजिटल मार्केटिंग ? घर बैठे कमा सकते हैं खूब सारा पैसा

क्या है डिजिटल मार्केटिंग ? घर बैठे कमा सकते हैं खूब सारा पैसा

इंटरनेट पर अपने प्रोडक्ट को हम ऑनलाइन तरीके से प्रोमोट करते है और लोगों तक पहुंचने की कोशिश करते है। इसका रिजल्ट भी अच्छा रहता है। इसीलिए कहा जा रहा है कि इंटरनेट सबसे बड़ा मार्केट प्लेस बन चुका है। यह सामान्य मार्केटिंग पद्धति से अलग है, आसान है और कब मेहनत वाला है।

इंटरनेट के प्रति लोगों के बढ़े रूझान की वजह से डिजिटल मार्केटिंग व्यापार का एक अच्छा तरीका बन गया है। इसका सबसे बड़ा कारण तो यह है कि आज के युग में हर चीज ऑनलाइन हो गया है और हम इंटरनेट की सहायता से लगभग सारी सुविधाओं का आनंद ले सकते हैं। ऑनलाइन शॉपिंग हो, टिकट बुकिंग हो, रिचार्ज हो, बिल पेमेंट हो या ऑनलाइन ट्रांजैक्शन हो, सभी काम हम इंटरनेट के जरिए घर बैठे कर सकते हैं। यही कारण है कि वर्तमान समय में डिजिटल मार्केटिंग को बढ़ावा मिल रहा है। सबसे पहले आपको बताते हैं कि आखिर डिजिटल मार्केटिंग से तात्पर्य क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग दो शब्दों का समाहार है। पहला है डिजिटल और दूसरा मार्केटिंग। डिजिटल का तात्पर्य इंटरनेट और तकनीक से है, जबकि मार्केटिंग का संबंध विज्ञापन और व्यापार से। और अगर आसानी से समझने के लिए कहे तो डिजिटल मार्केटिंग का तात्पर्य इंटरनेट के बाजार से है। आसान शब्दों में कहें तो किसी सर्विस या प्रोडक्ट को बेचने के लिए अगर हम डिजिटल तकनीक का इस्तेमाल करते हैं जैसे कि इंटरनेट इत्यादि तो उसे डिजिटल मार्केटिंग या ऑनलाइन मार्केटिंग कहा जाता है। डिजिटल मार्केटिंग अपने प्रोडक्ट को सही लोगों तक पहुंचाने के लिए बहुत ही फास्ट तरीका है। इंटरनेट पर अपने प्रोडक्ट को हम ऑनलाइन तरीके से प्रोमोट करते है और लोगों तक पहुंचने की कोशिश करते है। इसका रिजल्ट भी अच्छा रहता है। इसीलिए कहा जा रहा है कि इंटरनेट सबसे बड़ा मार्केट प्लेस बन चुका है। यह सामान्य मार्केटिंग पद्धति से अलग है, आसान है और कब मेहनत वाला है।

लेकिन सवाल यह है कि आखिर मार्केट की इतनी पद्धतियां होने के बावजूद  डिजिटल मार्केटिंग की आवश्यकता क्यों पड़ी? तो इसके कुछ कारण हम आपको बता रहे हैं:-

पहला है- यह आसान और तेज तरीका है अपने प्रोडक्ट को प्रोमोट करने का

2- ऑफलाइन मार्केटिंग की तुलना में ऑनलाइन मार्केटिंग सस्ता होता है

3- डिजिटल मार्केटिंग आपको बेहतर परिणाम देते है

4- सबसे खास बात यह है कि आप अपने प्रोडक्ट को टारगेट ऑडियंस तक अच्छे तरीके से पहुंचा सकते है

5- इसके अलावा डिजिटल मार्केटिंग में आपको अपने सर्विस और प्रोडक्ट को प्रोमोट करने के लिए बहुत तरह के विकल्प मिलते है

6- डिजिटल मार्केटिंग के जरिए कंपनी की ब्रांड वैल्यू बढ़ती है

7- अपने प्रोडक्ट को आप ग्लोबली प्रोमोट कर सकते हैं

8- अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करने के साथ-साथ उसे ऑनलाइन बेच सकते है

इसे भी पढ़ें: क्या है एफिलिएट मार्केटिंग का तरीका और घर बैठे कैसे कमा सकते हैं खूब सारा पैसा ?

लेकिन अब सवाल यह है कि आखिर डिजिटल मार्केटिंग की शुरुआत कैसे करें? डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से पैसे कमाने के लिए आपको इन कुछ खास तरीको को अपनाने पड़ेंगे

Website designing

SEO

Content marketing

Social media marketing

Affiliate marketing

Blogging

अगर आप Web designing जानते हैं तो आपके लिए डिजिटल मार्केटिंग के जरिए पैसा कमाना आसान है। वर्तमान समय में देखें तो फ्रीलांस वेब डिजाइनर्स की भारी मांग है। कई कंपनियां और दुनिया भर के कई लोग अपनी नई वेबसाइट बनवाना चाहते हैं। इसके बदले आपको अच्छा खासा पैसा मिलता है।

SEO का मुख्य उद्देश्य गूगल और याहू जैसे सर्च इंजन में साइट की विजिबिलिटी को बढ़ाना होता है। साइट की विजिबिलिटी जितनी बढ़ेगी उतना ही हमारे प्रोडक्ट की मांग बढ़ेगी। विजिबिलिटी बढ़ाने के लिए वेबसाइट पर जिस कंटेंट  का उपयोग किया जाता है उनमें कीवर्ड और key phrases काफी महत्व रखते है। ऐसे में आप किसी वेबसाइट कंपनी के लिए SEO कंटेंट लिखकर आसानी से पैसे कमा सकते है।

Content marketing से तात्पर्य यह है कि आप किसी प्रोडक्ट के लिए कंटेंट  तैयार करें और उसका विज्ञापन करें तथा ऑनलाइन प्रकाशित करें। कंटेंट पूरी तरह से एक कस्टमर के लिए सूचना का काम करता है  जो प्रोडक्ट की वैल्यू बढ़ाता है। यदि आप अच्छा लिखते हैं और अपनी लिखावट को अच्छे से पेश कर सकते हैं तो डिजिटल मार्केटिंग में आपके लिए भविष्य अच्छा है।

सोशल मीडिया मार्केटिंग- इंटरनेट के जमाने में सोशल मीडिया काफी लोकप्रिय है। सोशल मीडिया के जरिए अपने प्रोडक्ट को प्रोमोट करना आजकल चलन में है। परंतु इसके लिए जरूरी है कि आप उस मामले में एक्सपर्ट हो। अगर आपको सोशल मीडिया की अच्छी जानकारी है तो कई कंपनी अपने प्रोडक्ट को प्रोमोट करने के लिए आपको हायर कर सकते है। इसके अलावा आप फ्रीलांस काम करके भी किसी कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते है। उसके बदले आपको पैसे मिलेंगे।

Affiliate marketing  के जरिए एक ब्लॉगर किसी एक कंपनी के प्रोडक्ट को अपनी वेबसाइट के जरिए बिक्री कर कमीशन कमाता है। जो भी कमीशन मिलता है वह प्रोडक्ट पर निर्भर करता है कि वह किस टाइप का है और किसके लिए है। लेकिन इसके लिए जरूरी है कि आपकी वेबसाइट पर अच्छे खासे विजिटर्स आते हो।

इसे भी पढ़ें: Online पैसा कमाने का अच्छा जरिया है Blogging, Investment की भी जरूरत नहीं

Blogging-आप अपना ब्लॉग बना सकते है और उस पर किसी कंपनी के ऐड को प्रमोट कर सकते है। उस पर आने वाले क्लिक या फिर उस  प्रोडक्ट की बिक्री आपके लिए कमाई का साधन हो सकता है। उस प्रोडक्ट पर क्लिक जितने बढ़ेंगे या फिर उसकी खरीदारी जितनी बढ़ेगी उतना ही आपकी कमाई बढ़ेगी।







This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept