• The Girl on the Train: क्लाईमैक्स तक पहुंचकर आप भी नहीं जानना चाहेंगे कि मर्डर किसने किया!

बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चौपड़ा को लंबे समय बाद पर्दे पर लीड रोल में देखा गया है। उनकी मोस्ट अवेटिड फिल्म 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' 26 फरवरी 2021 को नेटफ़्लिक्स पर रिलीज़ हो चुकी है।

बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चौपड़ा को लंबे समय बाद पर्दे पर लीड रोल में देखा गया है। उनकी मोस्ट अवेटिड फिल्म 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' 26 फरवरी 2021 को नेटफ़्लिक्स पर रिलीज़ हो चुकी है। 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' एक मिस्ट्री थ्रिलर ड्रामा फिल्‍म है जो इसी नाम से बनीं हॉलीवुड फिल्म का रीमेक है। परिणीति चौपड़ा की फिल्म 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' का निर्देशन रिभु दासगुप्ता ने किया हैं। फिल्म की कास्ट की बात करें तो, फिल्‍म में कीर्ति कुल्‍हारी, परिणीति चौपड़ा, अदिति राव हैदरी और अविनाश तिवारी साथ दिखाई दिए है लेकिन फिल्म में लीड रोल परिणीति निभा रही हैं। फिल्म में परिणीति चौपड़ा को अब तक के सबसे अलग अवतार में देखा जा सकता है। उन्होंने शराब पीकर धुत्त रहने वाली मानसिक रुप से बीमार महिला का किरदार निभाया है। 

इसे भी पढ़ें: बुलंदियों पर नोरा फतेही की किस्मत, एक बार फिर प्राप्त की ये बड़ी सफलता  

कहानी

फिल्म की कहानी की बात करें तो फिल्म की कहानी एक मर्डर मिस्ट्री के इर्द-गिर्द घूमती है। इस हत्या का शक मीरा कपूर (परिणीति चौपड़ा) पर रहता है। फिल्म में मीरा राजपूत एक तलाकशुदा महिला है। मीरा की जिंदगी भी एक खुशहाल जिंदगी थी लेकिन एक दिन एक ऐसा हादसा होता है जिसमें वह अपने बच्चे को खो देती है। बच्चे के गम में बीमार मीरा को उनका पति भी छोड़ देता है और दूसरी शादी कर लेता है। मीरा अपने इस गम को भुलाने के लिए शराब का सहारा ले लेती है और धीरे-धीरे एक मानसिक बीमारी का शिकार हो जाती है। इस बीमारी के तहत उन्हें चीजें याद नहीं रहती है। मीरा अपनी इस बीमारी के साथ जिंदगी जी रही होती है। मीरा की जिंदगी में एक अलग जगह नुसरत (अदिति राव हैदरी) रखती है। मीरा सुबह शाम ट्रेन से सफर करती है और रास्ते में एक घर की ओर रोज देखती है। इसी घर में नुसरत रहती है। मीरा को नुसरत की खुशहाल जिंदगी को देखकर काफी खुश होती है और अपनी बीती जिंदगी को याद करती है। एक दिन नुसरत की हत्या हो जाती है और नुसरत की हत्या का शक मीरा कपूर पर जाता है। मीरा कपूर खुद एक लॉयर है वह बीमारी के कारण काम करना छोड़ चुकी है लेकिन कानूनी दाव-पेंच जानती है और खुद को बचाने की काफी कोशिश करती हैं। हत्या के शक में नुसरत से जुड़े कई और लोग भी है। अब खून किसने किया है ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़गी। 

इसे भी पढ़ें: आखिर क्यों इन दिनों ट्रेंड कर रही है आलिया भट्ठ? क्या शादी है वजह!  

रिव्यू

अब बात करते है फिल्म के बारे में... फिल्म भले ही हिंदी है लेकिन फिल्म को पूरी तरह से हॉलीवुड लुक दिया गया है। फिल्म लंदन में शूट हुई है। इसके अलावा फिल्म को मर्डर के बाद इस तरह से उलझा दिया गया है कि दर्शक अंत तक जाते-जाते बोर हो जाएंगे और शायद ये नहीं जानना चाहेंगे कि आखिर नुसरत का खून किसने किया। हॉलीवुड फिल्म 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' का हिंदी रीमेक काफी बोरिंग बनाया गया है। निर्देशक ने सस्पेंस के चक्कर में कहानी को बहुत ज्यादा कमजोर कर दिया है। जिस बीमारी के बारे में बात की जा रही हैं उस बीमारी का नाम तो कई जगह लिया गया है लेकिन उससे क्या समस्या होती हैं यह नहीं समझाया गया। बात करें कास्ट की तो परिणीति चौपड़ा ने कुछ हटकर काम किया है लेकिन उन्हें अभी इस तरह के किरदार निभाने के लिए और भी मेहनत करनी पड़ेगी। वह एक जैसे एक्सप्रेसन देती नजर आ रही हैं। इसके अलावा विदेशी पुलिस ऑफिसर की भूमिका में कीर्ति कुल्‍हारी अपने किरदार के साथ न्याय कर रही हैं लेकिन उनके लुक ने डिस्पॉइंट किया है। कीर्ति कुल्‍हारी को पूरी फिल्म में टर्बन परनाया हुआ है जो उनपर बिलकुल भी नहीं जच रहा। कुछ मिलाकर फिल्म को अगर देखना चाहते हैं तो अपने रिस्क पर देख सकते हैं। 

फिल्म- द गर्ल ऑन द ट्रेन

मूवी टाइप- थ्रिलर

निर्देशक- रिभु दासगुप्ता 

कलाकार- परिणीति चोपड़ा, अदिति राव हैदरी, अविनाश तिवारी, कीर्ति कुल्हारी 

प्लेटफॉर्म- नेटफ्लिक्स