15-18 साल के बच्चों का कोरोना टीकाकरण इस दिन से होगा शुरू, स्लॉट बुक करने से पहले जान लें ये जरुरी बातें

corona vaccine slot for children
अब 15 से 18 साल के बच्चों के लिए 3 जनवरी से वैक्सीनेशन को मंजूरी मिल गई है। प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार रात देश के नाम संबोधन में इस बात का ऐलान किया। आपको बता दें कि बच्‍चों का टीकाकरण अगले साल 3 जनवरी 2022 से शुरू होगा।

देश में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के खतरे के बीच अब 15 से 18 साल के बच्चों के लिए 3 जनवरी से वैक्सीनेशन को मंजूरी मिल गई है। प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार रात देश के नाम संबोधन में इस बात का ऐलान किया। आपको बता दें कि बच्‍चों का टीकाकरण अगले साल 3 जनवरी 2022 से शुरू होगा।

इसे भी पढ़ें: बीमारियों से खुद को सुरक्षित रखना है तो करें मुनक्के का सेवन

भारत सरकार के ड्रग कंट्रोलर जनरल (DCGI) ने भारत बायोटेक की कोवैक्सिन (Covaxin) को 12 से 18 साल के बच्चों में इमरजेंसी यूज की मंजूरी दे दी। इससे पहले, अगस्त में जायडस कैडिला के तीन डोज वाले टीके को 12 साल और इससे बड़े लोगों में इमरजेंसी यूज की मंजूरी दी गई थी। गौरतलब है कि कई देशों में ओमीक्रॉन वैरिएंट अपना कहर बरपा रहा है। बच्चे भी कोरोना के ओमीक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में  मौजूदा टीकों से इस बीमारी को फैलने से रोकने में मदद मिलेगी। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगवाने से पहले इन बातों का खास ख्याल रखना चाहिए -  

डॉक्टर की सलाह लें

अगर आपके बच्चे को किसी तरह की एलर्जी है या वह पहले से किसी बीमारी से ग्रस्त है और दवाइयों का सेवन कर रहा है तो वैक्सीन स्लॉट बुक करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। 

बच्चे को खाली पेट वैक्सीन ना लगवाएं

ध्यान रखें कि बच्चे को खाली पेट वैक्सीन ना लगवाएं। यानी बच्चे को अच्छी तरह से भोजन करवाने के बाद ही टीका लगवाएं। इससे बच्चे की इम्युनिटी मजबूत होगी और वैक्सीन का साइड इफ़ेक्ट कम होगा। 

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में फिट और हेल्दी रहने के लिए अपनाएं आयुर्वेद के ये 5 नियम

साइड इफ़ेक्ट दिखने पर घबराएँ नहीं

वैक्सीन लगने के बाद इंजेक्शन साइट पर दर्द, सूजन, सिरदर्द, थकान, बुखार, शरीर में दर्द, पेट में दर्द, मतली, उल्टी, चक्कर आना, पसीना, ठंड, खांसी, इंजेक्शन साइट सूजन जैसे साधारण से लक्षण देखने को मिल सकते हैं। इसलिए घबराएँ नहीं और बच्चे को आराम करने की सलाह दें। 

इमरजेंसी केस में डॉक्टर से सम्पर्क करें 

अगर वैक्सीन लगने के बाद बच्चे को गंभीर एलर्जिक रिएक्शन हो गया हो या लगातार 2-3 दिन से बुखार आ रहा हो या कोई अन्य गंभीर स्वास्थ्य समस्या हो रही हो तो जल्द ही स्वास्थ्यकर्मी से संपर्क करें और उन्हें इसकी जानकारी दें। 

बच्चे को कोई दवाई या पेन किलर ना दें

वैक्सीन लगवाने के बाद वैक्सीन साइट पर दर्द और सूजन सामान्य है। लेकिन ऐसे में बच्चे को कोई दवाई या पेन किलर ना दें। इससे बॉडी के इम्यून रिस्पॉन्स में रुकावट आ सकती है। दर्द और सूजन कम करने के लिए आप वैक्सीन साइट पर कोल्ड कम्प्रेस दे सकते हैं। इसके साथ ही बच्चे को पोषक आहार और पर्याप्त मात्रा में पानी पीने की सलाह दें।

- प्रिया मिश्रा

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़