अपनी रक्षा क्षमताओं को बढ़ाने के लिए नियंत्रित मिसाइलों का निर्माण करेगा ऑस्ट्रेलिया

Australia
ऑस्ट्रेलिया ने बुधवार को कहा कि वह अपनी रक्षा क्षमताओं को बढ़ाने के लिए अमेरिका के साथ मिल कर नियंत्रित मिसाइलों का निर्माण शुरू करेगा।

वेलिंगटन। ऑस्ट्रेलिया ने बुधवार को कहा कि वह अपनी रक्षा क्षमताओं को बढ़ाने के लिए अमेरिका के साथ मिल कर नियंत्रित मिसाइलों का निर्माण शुरू करेगा। प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा कि ‘‘बदलते हुए वैश्विक माहौल’’ को देखते हुए वह मिसाइल निर्माण के लिए हथियार निर्माता के साथ साझेदारी करेगा, इससे रोजगार के हजारों अवसर पैदा होंगे और निर्यात के अवसर बढ़ेंगे। मॉरिसन ने कहा कि उनका देश रक्षा और सुरक्षा उद्योग में दस वर्ष में बड़े निवेश की योजना के तहत एक अरब ऑस्ट्रेलियाई डॉलर खर्च करेगा।

इसे भी पढ़ें: एंटोनी ब्लिंकन ने कहा- म्यांमार सेना की आम लोगों के खिलाफ कार्रवाई निंदनीय

उन्होंने कहा,‘‘ ऑस्ट्रेलिया के लोगों को सुरक्षित रखने के लिए ऑस्ट्रेलिया की धरती पर हमारी अपनी स्वतंत्र क्षमता निर्माण जरूरी है।’’ रक्षा मंत्री पीटर डुटॉन ने कहा,‘‘ हम इस अहम पहल पर अमेरिका के साथ मिल कर काम करेंगे ताकि यह समझा जा सके कि किस प्रकार से हमारा उद्यम ऑस्ट्रेलिया की जरूरतों को और हमारे सबसे अहम सैन्य साझेदार की बढ़ती जरूरतों को पूरा कर सकता है।’’

इसे भी पढ़ें: सफदरजंग अस्पताल के आईसीयू में लगी आग, 50 मरीजों को सुरक्षित बाहर निकाला गया

उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में हथियार निर्माण न केवल उसकी क्षमताओं को बढ़ाएगा बल्कि यह भी सुनिश्चित करेगा कि वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में किसी प्रकार की बाधा आने पर भी उनके देश के पास लड़ाकू अभियानों के लिए पर्याप्त मात्रा में हथियार हों।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़