• अफगान-अमेरिकी समुदाय की बाइडेन से अपील, कहा- अफगानिस्तान में ‘‘छद्म युद्ध’’ बंद करें पाकिस्तान

बाइडेन की उनके ओवल कार्यालय में अफगान नेताओं के साथ बैठक से कुछ घंटों पहले व्हाइट हाउस के समक्ष आयोजित रैली में शामिल अफगान-अमेरिकी मीरवाइज साफी ने कहा, ‘‘हम अफगान बलों, अफगान राष्ट्रीय सेना एवं सुरक्षा बलों को समर्थन देने यहां आए हैं।

वॉशिंगटन। अफगान-अमेरिकी समुदाय के सदस्यों ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और राष्ट्रीय सुलह के लिए अफगानिस्तान की उच्च परिषद (एचसीएनआर) के प्रमुख डॉ अब्दुल्ला अब्दुल्ला के यहां आगमन पर शुक्रवार को एक स्वागत रैली की तथा अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन से आग्रह किया कि वह पाकिस्तान से अफगानिस्तान में ‘‘छद्म युद्ध’’ बंद करने को कहें। बाइडेन की उनके ओवल कार्यालय में अफगान नेताओं के साथ बैठक से कुछ घंटों पहले व्हाइट हाउस के समक्ष आयोजित रैली में शामिल अफगान-अमेरिकी मीरवाइज साफी ने कहा, ‘‘हम अफगान बलों, अफगान राष्ट्रीय सेना एवं सुरक्षा बलों को समर्थन देने यहां आए हैं। हम चाहते हैं कि अमेरिका पाकिस्तानी प्रतिष्ठानों के समर्थन से अफगानिस्तान में हो रहे छद्म युद्ध को बंद कराए।’’

इसे भी पढ़ें: बड़ा फैसला, राजनयिकों की सुरक्षा के लिए 650 अमेरिकी सैनिक अफगानिस्तान में बने रहेंगे

अफगान-अमेरिकियों ने बाइडन प्रशासन से अपील की कि वह पाकिस्तान को धन भेजना बंद करे, ‘‘क्योंकि वे (पाकिस्तान) अफगानिस्तान में आतंकवाद को यकीनन समर्थन दे रहे हैं’’। रैली में मौजूद समुदाय के ही अशरफ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हम हमारे राष्ट्रपति अशरफ गनी और उनके प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करने के लिए यहां एकत्र हुए हैं, लेकिन इस रैली का मुख्य उद्देश्य अफगानिस्तान में छद्म युद्ध रोकना है, जहां पाकिस्तान क्षेत्र के सभी आतंकवादी समूहों का समर्थन करता रहा है।” उसने कहा, ‘‘वे क्षेत्र को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं। हम सभी जानते हैं कि पाकिस्तान अफगानिस्तान में सभी आतंकवादी समूहों को प्रायोजित कर रहा है और क्षेत्र को अस्थिर करने के लिए उन्हें अन्य देशों में भी भेजता है।