Pakistan Blast: चीनी नागरिकों की मौत से भड़का चीन, आत्मघाती हमले की कड़ी निंदा की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2022   12:32
Pakistan Blast: चीनी नागरिकों की मौत से भड़का चीन, आत्मघाती हमले की कड़ी निंदा की
Prabahsakshi

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने पाकिस्तान में चीनी नागरिकों पर हुए ताजा हमले की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि चीनी नागरिकों का खून यूं ही नहीं बहाया जा सकता और इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों से यकीनन इसकी कीमत वसूली जानी चाहिए।

बीजिंग। चीन ने पाकिस्तान से उसके देश में काम कर रहे चीनी नागरिकों की सुरक्षा बढ़ाने का बुधवार को आग्रह किया और कराची विश्वविद्यालय में हुए आत्मघाती हमले के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा। इस हमले में तीन चीनी शिक्षक और अन्य लोग घायल हो गए। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने पाकिस्तान में चीनी नागरिकों पर हुए ताजा हमले की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि चीनी नागरिकों का खून यूं ही नहीं बहाया जा सकता और इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों से यकीनन इसकी कीमत वसूली जानी चाहिए। पाकिस्तान की आर्थिक राजधानी स्थित कराची विश्वविद्यालय में मंगलवार को बुर्का पहने एक आत्मघाती महिला हमलावर ने एक कार को विस्फोट कर उड़ा दिया जिसमें तीन चीनी नागरिकों और एक अन्य की मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस कोरोना पॉजिटिव, रिपोर्ट के बाद आईसोलेशन में गईं

विश्वविद्यालय में कन्फ्यूशियस इंस्टिट्यूट के पास हुए इस हमले की जिम्मेदारी बलूच लिबरेशन आर्मी ने ली है। इस संस्थान में चीनी की शिक्षा दी जाती है। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने प्रवक्ता के हवाले से कहा कि चीन ने हमले की कड़ी निंदा की है और मारे गए लोगों के प्रति गहरा दुख जताया है,साथ ही उसने घायलों और पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जताई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीनी सहायक विदेश मंत्री वू जियानघाओ ने चीन में पाकिस्तानी राजदूत को तत्काल फोन किया और गहरी चिंता जताई। प्रवक्ता ने बताया कि इस दौरान वू ने कहा की पाकिस्तानी पक्ष को तुरंत घटना की गहन जांच करनी चाहिए, अपराधियों को पकड़ना और दंडित करना चाहिए,तथा पाकिस्तान में चीनी नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए। बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी से जुड़े मजीद ब्रिगेड ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

इसे भी पढ़ें: यदि अमेरिका भारत से मित्रता चाहता है तो दोस्त को कमजोर नहीं होना चाहिए : सीतारमण

पाकिस्तान, ब्रिटेन और अमेरिका में प्रतिबंधित अलगाववादी संगठन बीएलए के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह हमला ‘‘ब्रिगेड की पहली महिला आत्मघाती हमलावर’’ शैरी बलूच उर्फ ब्रम्श ने किया था। उन्होंने कहा कि यह हमला बलूच प्रतिरोध के इतिहास में एक नया अध्याय है इस संबंध में विश्वविद्यालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि मरने वालों में तीन चीनी नागरिक शामिल हैं जिनकी पहचान कन्फ्यूशियस इंस्टिट्यूट के निदेशक हुआंग गुइपिंग, डिंग मुपेंग, चेन सा और पाकिस्तानी चालक खालिद के रूप में हुई है। प्रवक्ता ने कहा कि विस्फोट में वांग युकिंग और हामिद नामक दो अन्य लोग घायल हुए हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।