अमेरिका में महिला की हत्या मामले में भारतीय मूल का पूर्व पुलिस अधिकारी बरी

Murder case
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
भारतीय मूल के एक पूर्व अमेरिकी पुलिस अधिकारी को आरोपमुक्त कर दिया गया है जिसकी गोली से 2019 में एक महिला की मौत हो गई थी। टेक्सास की एक अदालत ने रविंदर सिंह को बरी कर दिया। सिंह के खिलाफ मैगी ब्रूक्स (30) की गोली मारकर हत्या को लेकर सुनवाई चल रही थी।

ह्यूस्टन (अमेरिका), 31 अगस्त भारतीय मूल के एक पूर्व अमेरिकी पुलिस अधिकारी को आरोपमुक्त कर दिया गया है जिसकी गोली से 2019 में एक महिला की मौत हो गई थी। टेक्सास की एक अदालत ने रविंदर सिंह को बरी कर दिया। सिंह के खिलाफ मैगी ब्रूक्स (30) की गोली मारकर हत्या को लेकर सुनवाई चल रही थी। टारेंट के जिला फौजदारी अधिवक्ता के कार्यालय ने सोमवार को अदालत के फैसले के बाद एक बयान जारी किया। इसमें कहा गया है कि जब भी बल प्रयोग से किसी नागरिक की मौत हो जाती है, तो वे मामले को अदालत में ले जाते हैं और अगर अदालत अभियोग तय करती है तो वे मुकदमा चलाते हैं।

जिला अधिवक्ता के कार्यालय ने कहा कि अदालत ने 2019 में ब्रूक्स की मौत से संबंधित तथ्यों को सुना और उसने गवाही और सबूतों का मूल्यांकन किया और तय किया कि रविंदर सिंह दोषी नहीं हैं। पुलिस ने इस घटना का अगस्त 2019 में वीडियो जारी किया था। वीडियो में दिखता है कि एक कुत्ता महिला की ओर दौड़ता है और अधिकारी महिला को बचाने के लिए कुत्ते पर गोली चलाता है तो उस महिला को ही लग जाती है। तीन बच्चों की मां ब्रूक्स को अस्पताल में भर्ती कराया गया और बाद में उसकी मृत्यु हो गई। उसकी मौत का कारण हत्या बताया गया था।

सिंह ने प्रशासनिक जांच के बीच नवंबर 2019 में इस्तीफा दे दिया और सितंबर 2020 में उन पर हत्या का आरोप लगाया गया। अगर इस मामले में सिंह को दोषी ठहराया जाता, तो उन्हें अधिकतम दो साल जेल में रहना होता और 10,000 अमरीकी डालर तक का जुर्माना भरना होता। फैसले के बाद, सिंह ने कहा कि वह अपने परिवार को धन्यवाद देना चाहते हैं। साथ ही वह ब्रूक्स के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़