ब्रिटेन में हिंदू खतरे में हैं? लिस्टर पुलिस ने नवरात्रि और दिवाली पर दिया सुरक्षा का भरोसा

Leicester Police
creative common
अभिनय आकाश । Sep 24, 2022 1:50PM
शहर में सांप्रदायिक झड़पें हुईं हैं। इसको देखते हुए भारतीय उच्चायोग ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। वहीं अब ब्रिटेन की पुलिस ने स्थानीय लोगों को पूरी सुरक्षा का भरोसा दिया है। लीसेस्टर पुलिस ने एक ट्वीट में हिंदू समुदाय से अपने आगामी त्योहारों की तैयारी करने को कहा है। हालांकि ट्वीट को भारतीय ट्विटर समुदाय से मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली।

ब्रिटे के लिस्टेर शहर में बीते कुछ दिनों से हिंदू-मुस्लिम समुदाय के बीच तनाव का माहौल बना हुआ है। भारत पाकिस्तान क्रिकेट मैच से शुरू हुआ तनाव हिंदू मुस्लिम दंगे में बदल चुका है। शहर में सांप्रदायिक झड़पें हुईं हैं। इसको देखते हुए भारतीय उच्चायोग ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। वहीं अब ब्रिटेन की पुलिस ने स्थानीय लोगों को पूरी सुरक्षा का भरोसा दिया है। लीसेस्टर पुलिस ने एक ट्वीट में हिंदू समुदाय से अपने आगामी त्योहारों की तैयारी करने को कहा है। हालांकि इस ट्वीट को भारतीय ट्विटर समुदाय से मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली। 

इसे भी पढ़ें: विक्रम दुरैस्वामी ने ब्रिटेन में भारतीय उच्चायुक्त के रूप में अपना कार्यभार संभाला

कश्मीर फाइल्स के निदेशक विवेक अग्निहोत्री ने कहा कि किसने सोचा था कि एक दिन ऐसा आएगा जब हिंदू समुदाय को अपने सबसे बड़े त्योहारों को मनाने के लिए पुलिस सुरक्षा की आवश्यकता होगी? यह पर्याप्त सबूत है कि दुश्मन हमारे आसपास है और खतरा सच में है। हालांकि यूके की गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैन ने लीसेस्टर में पुलिस अधिकारियों और हिंदू और मुस्लिम समुदाय के नेताओं से मुलाकात की और उन्हें आश्वासन दिया कि हालिया हिंसक झड़पों के दोषी कानून की पूरी ताकत का सामना करेंगे।

इसे भी पढ़ें: लिज़ ट्रस ने कहा कि ब्रिटेन के भारत, इज़राइल, इंडोनेशिया और दक्षिण अफ्रीका के साथ मजबूत संबंध हैं

भारतीय उच्चायोग ने क्या कहा

इस घटना पर भारतीय उच्चायोग ने दोषियों के खिलाफ कड़े एक्शन की मांग की है। लंदन में भारतीय उच्चायोग ने कहा कि हम लेस्टर में भारतीय समुदाय के खिलाफ हिंसा और हिंदू धर्म के परिसरों और धार्मिक प्रतीकों की तोड़फोड़ की निंदा करते हैं। हमने ब्रिटिश अधिकारियों के साथ इस मुद्दे को पुरजोर तरीके से उठाया है। लंदन पुलिस ने कहा है कि हम लेस्टर हिंसा, अव्यवस्था और अराजकता को बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम शांति रखने और बातचीत से मुद्दा सुलझाने के हक में हैं।

अन्य न्यूज़