पाकिस्तान में विपक्ष की एकजुटता, बिलावल भुट्टो बोले- इमरान खान को देना होगा इस्तीफा, शहबाज बनेंगे पीएम

पाकिस्तान में विपक्ष की एकजुटता, बिलावल भुट्टो बोले- इमरान खान को देना होगा इस्तीफा, शहबाज बनेंगे पीएम

इस संवाददाता सम्मेलन में बिलावल भुट्टो और शहबाज शरीफ एक साथ दिखाई दिए। शहबाज शरीफ ने दावा किया कि वह लोगों की हक की लड़ाई लड़ रहे हैं और इमरान खान को इस्तीफा देना ही होगा। वहीं बिलावल भुट्टो ने कहा कि इमरान खान अपना बहुमत खो चुके हैं और शहबाज शरीफ जल्द ही देश के प्रधानमंत्री बनेंगे।

पाकिस्तान की राजनीतिक हलचल इस वक्त देश है। इमरान खान की सरकार अल्पमत में दिखाई दे रही है। इन सबके बीच पाकिस्तान में विपक्षी एकता भी देखने को मिल रही है। आज विपक्ष की ओर से एक संवाददाता सम्मेलन किया गया और इमरान खान से इस्तीफे की मांग की गई। इस संवाददाता सम्मेलन में बिलावल भुट्टो और शहबाज शरीफ एक साथ दिखाई दिए। शहबाज शरीफ ने दावा किया कि वह लोगों की हक की लड़ाई लड़ रहे हैं और इमरान खान को इस्तीफा देना ही होगा। वहीं बिलावल भुट्टो ने कहा कि इमरान खान अपना बहुमत खो चुके हैं और शहबाज शरीफ जल्द ही देश के प्रधानमंत्री बनेंगे।

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने पाकिस्तान नेशनल असेंबली में MQM के खालिद मकबूल सिद्दीकी और एलओपी शहबाज शरीफ के साथ संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 2018 में चुनाव के नाम पर चयन पूरे पाकिस्तान के खिलाफ एक साजिश थी। उन्होंने कहा कि शहबाज शरीफ ने प्रधानमंत्री को इस्तीफा देने की सही चुनौती दी है। हम समझते हैं कि प्रधानमंत्री ने अभी तक ऐसी कोई जिम्मेदारी नहीं दिखाई है। लेकिन उनके पास कोई विकल्प नहीं बचा है, वह अब प्रधानमंत्री नहीं हैं। भुट्टो ने कहा कि उन्हें (प्रधानमंत्री) इस्तीफा देना होगा, वह ज्यादा देर तक चलते नहीं रह सकते। संसद का सत्र कल है, चलिए कल मतदान करते हैं और मामले को सुलझाते हैं ताकि हम आगे बढ़ सकें। 

इसे भी पढ़ें: अविश्वास की परीक्षा से पहले ही नाकाम, आज भूतपूर्व हो जाएंगे इमरान? ISI और आर्मी चीफ के साथ कर रहे बैठक

वहीं विपक्ष के नेता अख्तर मेंगल ने कहा कि इमरान खान हिट विकेट हो चुके हैं। अंतरराष्ट्रीय साजिश का बहाना भी बहुत पुराना हो चुका है। वह नई दुकान खोलें। वहीं पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि इमरान खान ऐसे खिलाड़ी हैं जो आखिरी गेंद तक लड़ते हैं। इस्तीफा नहीं होगा। एक मैच होगा, दोस्त और दुश्मन दोनों इसे देखेंगे। पाकिस्तान में संकट से घिरे प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को संघीय कैबिनेट का विशेष सत्र बुलाया। यह सत्र इस तरह की रिपोर्ट मिलने के बीच बुलाया गया कि सत्ताधारी गठबंधन के सदस्य दल एमक्यूएम-पी के दो मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है।