पाकिस्तान ने उसे ‘विशेष चिंता वाला देश’ घोषित किए जाने को ‘मनमाना’ बताया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 19, 2021   08:44
पाकिस्तान ने उसे ‘विशेष चिंता वाला देश’ घोषित किए जाने को ‘मनमाना’ बताया

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता असीम इफ्तिखार अहमद ने कहा कि पाकिस्तान को ‘विशेष चिंता वाला देश’ घोषित करना ‘‘पूरी तरह से जमीनी हकीकत से परे है और इस कवायद की विश्वसनीयता पर गंभीर संदेह उत्पन्न करता है।’’

इस्लामाबाद| पाकिस्तान ने अमेरिका द्वारा उसे ‘विशेष चिंता वाला देश’ घोषित किए जाने को ‘मनमाना और चुनिंदा आकलन’ बताते हुए खारिज किया और कहा कि यह पूरी तरह से जमीनी हकीकत से परे है और इस कवायद की विश्वसनीयता पर गंभीर संदेह पैदा करता है।

अमेरिका ने धार्मिक स्वतंत्रता के उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान, चीन, ईरान, उत्तर कोरिया और म्यांमा सहित कई राष्ट्रों को बुधवार को ‘विशेष चिंता वाला देश’ बताया।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका के वरिष्ठ राजयनिक ने नेपाली प्रधानमंत्री से मुलाकात की

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा, ‘‘मैं बर्मा (म्यांमा), पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (चीन), इरीट्रिया, ईरान, डीपीआरके (कोरिया), पाकिस्तान, रूस, सऊदी अरब, ताजिकिस्तान और तुर्कमेनिस्तान को धार्मिक स्वतंत्रता के खिलाफ संस्थागत हिंसा और गंभीर उल्लंघन में शामिल होने या बर्दाश्त करने के लिए ‘विशेष चिंता वाले देश’ घोषित करता हूं।’’

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता असीम इफ्तिखार अहमद ने कहा कि पाकिस्तान को ‘विशेष चिंता वाला देश’ घोषित करना ‘‘पूरी तरह से जमीनी हकीकत से परे है और इस कवायद की विश्वसनीयता पर गंभीर संदेह उत्पन्न करता है।’’

इसे भी पढ़ें: अफगानिस्तान पर अमेरिका के विशेष दूत ने डोवाल, श्रृंगला से वार्ता की

उन्होंने कहा, ‘‘इस प्रकार नामकरण करने से दुनियाभर में धार्मिक स्वतंत्रता को बढ़ावा नहीं मिलता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।