युद्ध के दूसरे दिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार हुआ रूस, सामने रखी यह शर्त

युद्ध के दूसरे दिन यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार हुआ रूस, सामने रखी यह शर्त
प्रतिरूप फोटो

पश्चिमी देश रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने की बात कर रहे हैं। जबकि कुछ देशों ने प्रतिबंध लगा भी दिए हैं। हालांकि रूस बातचीत के लिए तैयार हो गया है मगर यूक्रेन के सामने एक शर्त रखी है। विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि रूस, यूक्रेन के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है।

मास्को। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शनिवार को युद्ध का दूसरा दिन है। ऐसे में यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए रूस तैयार हो गया है। वहीं दूसरी तरफ पश्चिमी देश रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने की बात कर रहे हैं। जबकि कुछ देशों ने प्रतिबंध लगा भी दिए हैं। हालांकि रूस बातचीत के लिए तैयार हो गया है मगर यूक्रेन के सामने एक शर्त रखी है। 

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन से भारतीयों की वापसी का प्लान तैयार ! रोमानिया और हंगरी के उड़ान भरेगा विमान: सूत्र 

रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि यदि यूक्रेन की सेना अपने हथियार डाल देती है तो रूस, यूक्रेन के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि रूस नहीं चाहता है कि यूक्रेन पर नियो-नाजियों का शासन हो। अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी के मुताबिक, रूस, यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार हो गया है। इसके अलावा यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की अंडरग्राउंड हो गए हैं।

जिनपिंग ने पुतिन से की बात

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के साथ फोन पर बात की है। जिसके बाद एक बयान सामने आया। चीन ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति यूक्रेन के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति ने रूस को बातचीत का प्रस्ताव दिया था। 

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन संकट: फ्रांस का रूस को दो टूक जवाब, कहा- हमारे पास भी है परमाणु हथियार 

कीव के बाहरी इलाकों में रूस का हमला

यूक्रेन के शहरों और सैन्य ठिकानों पर हवाई हमले करने और तीन तरफ से सैनिकों और टैंकों को भेजने के बाद रूसी सैनिक राजधानी कीव के बाहरी इलाकों तक पहुंच गए हैं। इतना ही नहीं कीव में भी धमाकों की कई आवाजें सुनी गई हैं। वहीं, यूक्रेन के राष्ट्रपति ने ऐसे हमलों को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय मदद की गुहार लगाई है।