Ukraine Russia War: इस्तांबुल में रूस-यूक्रेन वार्ता समाप्त, सैन्य गतिविधियों में कटौती करेंगे पुतिन

Ukraine Russia War: इस्तांबुल में रूस-यूक्रेन वार्ता समाप्त, सैन्य गतिविधियों में कटौती करेंगे पुतिन

जानकारी के मुताबिक रूसी वार्ताकार ने दावा किया है कि आज यूक्रेन के साथ उसके बातचीत बेहद ही सार्थक रही है। इसके अलावा रूस की सेना ने दावा किया है कि वार्ता में “विश्वास बढ़ाने के लिए” वह कीव, चेर्नीहीव के पास अभियान में “मौलिक रूप से कटौती” करेगी।

रूस और यूक्रेन के बीच 34 वें दिन भी युद्ध जारी है। रूस कि हम लोग के कारण यूक्रेन में तबाही के मंजर है। वर्तमान में सबसे बड़ा सवाल यही है कि आखिर दोनों देशों के बीच यह युद्ध कैसे रुकेगा? हालांकि आज रूस और यूक्रेन के बीच इस्तांबुल में एक बैठक हुई। इस्तांबुल तुर्की की राजधानी है। दोनों देशों के प्रतिनिधि मंडल के बीच यह बातचीत का चौथा दौर था जो कि करीब 4 घंटे तक चला। जानकारी के मुताबिक रूसी वार्ताकार ने दावा किया है कि आज यूक्रेन के साथ उसके बातचीत बेहद ही सार्थक रही है। इसके अलावा रूस की सेना ने दावा किया है कि वार्ता में “विश्वास बढ़ाने के लिए” वह कीव, चेर्नीहीव के पास अभियान में “मौलिक रूप से कटौती” करेगी।

दावा यह भी किया जा रहा है कि कीव वार्ताकारों ने यूक्रेन की सुरक्षा की गारंटी के लिए अंतरराष्ट्रीय समझौते का आह्वान किया है। दूसरी ओर खबर यह भी है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के बीच बातचीत हो सकती है। हालांकि यह खबर अभी भी पुष्ट नहीं है। यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की बार-बार रूस के साथ बातचीत का आह्वान कर रहे हैं। इससे पहले भी दोनों देशों के वार्ताकारों के बीच हुई अन्य दौर की बातचीत में भी इन मुद्दों पर जोर रहा था। हालांकि, वार्ता असफल रही थी। वार्ता से पहले, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा कि मॉस्को की मांग के अनुसार उनका देश अपनी तटस्थ स्थिति की घोषणा करने को तैयार है।

हालांकि, जेलेंस्की ने कहा कि वार्ताकारों के बातचीत के लिए एकत्र होने के बावजूद निर्मम युद्ध जारी है। वहीं, रूसी बलों ने पश्चिमी यूक्रेन स्थित एक तेल डिपो को और दक्षिण में एक सरकारी इमारत को निशाना बनाया है। तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने कहा कि दोनों पक्षों पर लड़ाई रोकने की ऐतिहासिक जिम्मेदारी है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि युद्ध का लंबा चलना किसी के भी हित में नहीं है। जेलेंस्की ने सोमवार देर रात कहा था कि यूक्रेनी बलों ने राजधानी कीव के उत्तर-पश्चिम स्थित प्रमुख उपनगर इरपिन को दोबारा अपने नियंत्रण में ले लिया है। जेलेंस्की ने वीडियो संदेश में कहा, हमे अब भी लड़ना होगा, हमे सहन करना होगा। यह निर्मम युद्ध हमारे देश, हमारे लोगों और हमारे बच्चों के खिलाफ है।