International Highlights: काबुल एयरपोर्ट पर हुआ रॉकेट हमला, कोई हताहत नहीं

International Highlights: काबुल एयरपोर्ट पर हुआ रॉकेट हमला, कोई हताहत नहीं

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के एयरपोर्ट पर सुबह 6:40 बजे 5 रॉकेट दागने की कोशिश की गई। एयर डिफेंस सिस्टम के द्वारा रॉकेट को डाइवर्ट किया गया।

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के एयरपोर्ट पर सुबह 6:40 बजे 5 रॉकेट दागने की कोशिश की गई। एयर डिफेंस सिस्टम के द्वारा रॉकेट को डाइवर्ट किया गया। खबरों के मुताबिक एक रॉकेट काबुल एयरपोर्ट के रिहायशी इलाके पर गिरा है, किसी के हताहत होने की अब तक कोई खबर नहीं है। वहीं दूसरी ओर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों ने कहा कि अमेरिका में अफगानिस्तान में अब भी फंसे करीब 300 अमेरिकियों को वहां से निकालने की क्षमता है और वे राष्ट्रपति द्वारा निकासी अभियान खत्म करने के लिए तय समय-सीमा से पहले यह काम कर लेंगे।

काबुल एयरपोर्ट पर फिर दागे गए 5 रॉकेट, एयर डिफेंस सिस्टम ने नाकाम किया हमला

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल एयरपोर्ट पर 5 रॉकेट को दागने की कोशिश की गई। एयर डिफेंस सिस्टम ने रॉकेट को डायवर्ट किया गया। बता दें कि एक रॉकेट काबुल एयरपोर्ट के रिहायशी इलाके पर गिरा है। बता दें कि अभी किसी के हताहत होने की खबर नहीं मिली है। यह हमले सोमवार करीब 6.40 बजे सुबह हुए। रॉकेट हमले के होने से अलग-अलग जगह पर कई धुंआ देखने को मिला और कई जगह आग भी लगने की आशंका है।

अमेरिका का तालिबान को जवाब, कहा- हममें बचे हुए अमेरिकियों को अफगानिस्तान से निकालने की क्षमता

राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों ने कहा कि अमेरिका में अफगानिस्तान में अब भी फंसे करीब 300 अमेरिकियों को वहां से निकालने की क्षमता है और वे राष्ट्रपति द्वारा निकासी अभियान खत्म करने के लिए तय समय-सीमा से पहले यह काम कर लेंगे। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हवाई हमले की पुष्टि करने से कुछ समय पहले अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन ने कहा था, ‘‘इस आसाधारण अभियान में यह आखिरी के कुछ दिन बेहद खतरनाक होने वाले हैं।’’

अफगानिस्तान में खत्म हुई महिलाओं की आजादी, तालिबान राज ने दिया एक बार फिर से दस्तक

अफगानिस्तान पर तालिबान के नियंत्रण ने एक बार फिर निसंदेह महिलाओं के जीवन को खतरे में डाल दिया है और नए तरीकों से उनके मानवाधिकारियों को दबाने की तैयारी की जा रही है। लेकिन हम सब जानते हैं कि अफगानिस्तान की महिलाओं का जीवन काफी पहले से हीचुनौतीपूर्ण रहा है। कई अफगान महिलाओं के लिये हिंसा बहुत लंबे समय से एक कड़वी सच्चाई रही है। यूएसएआईडी के जनसांख्यिकी एवं स्वास्थ्य कार्यक्रम के 2015 के सर्वेक्षण के अनुसार, देश के कुछ इलाकों में 90 प्रतिशत महिलाओं ने अपने पति के द्वारा की गई हिंसा का सामना किया है। जो महिलाएं अपने जालिम पतियों और परिवारों को छोड़ने में कामयाब हुईं, उन्हें भी अक्सर उन लोगों से और अधिक उत्पीड़न का सामना करना पड़ा, जिन्हें हम भरोसेमंद समझ सकते हैं, जिनमें पुलिस, डॉक्टर और सरकारी अधिकारी शामिल हैं।

पेंटागन ने कहा- काबुल में ड्रोन हमले में असैन्य नागरिकों के मारे जाने की खबरों से वाकिफ है अमेरिका

अमेरिका के रक्षा विभाग के मुख्यालय पेंटागन ने सोमवार को कहा कि हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे की ओर जा रहे विस्फोटकों से भरे वाहन पर ड्रोन हमले के बाद काबुल में असैन्य नागरिकों के हताहत होने की खबरों से अमेरिका वाकिफ हैं। अमेरिकी सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने कहा, ‘‘ हमें आज काबुल में एक वाहन पर हुए हवाई हमले में असैन्य नागरिकों के मारे जाने की जानकारी है। हम इस हवाई हमलों में हुए नुकसान का अब भी आकलन कर रहे हैं।’’