मुस्लिम अल्पसंख्यकों के अधिकारों को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति ने यूनान पर निशाना साधा

Turkish President Recep Tayyip Erdogan
ANI
तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोआन ने लौसाने संधि की 99वीं वर्षगांठ पर एथेंस पर आरोप लगाया कि संधि में उल्लिखित शर्तें, विशेष रूप से तुर्क अल्पसंख्यकों के अधिकारों को नजरअंदाज किया जा रहा है। वह यूनान के थरेस क्षेत्र में निवास करने वाले मुस्लिम अल्पसंख्यकों के अधिकारों का हनन कर रहा है।

इस्तांबुल। तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोआन ने यूनान के थरेस क्षेत्र में बसे मुस्लिम अल्पसंख्यकों के अधिकारों का हनन करने को लेकर रविवार को एथेंस की आलोचना की।

लौसाने संधि की 99वीं वर्षगांठ पर एर्दोआन ने एथेंस पर आरोप लगाया कि वह यूनान के थरेस क्षेत्र में निवास करने वाले मुस्लिम अल्पसंख्यकों के अधिकारों का हनन कर रहा है।

थरेस में रहने वाले मुसलमान प्रांत की आबादी का करीब 32 फीसदी हिस्सा हैं, उनके अलावा प्रांत में तुर्क, रोमा और बुल्गारियाई भाषी पोमाक निवास करते हैं।

राष्ट्रवादी नेता ने कहा, ‘‘संधि में उल्लिखित शर्तें, विशेष रूप से तुर्क अल्पसंख्यकों के अधिकारों को नजरअंदाज किया जा रहा है या फिर जानबूझकर उन्हें खत्म किया जा रहा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे देश के लिए इस हालात को स्वीकार करना संभव नहीं है, यह अच्छे पड़ोंसियों के बीच संबंधों के लिए सही नहीं है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़