UN के लिए अमेरिका की दूत लिंडा थॉमस ने चीन को ‘रणनीतिक प्रतिद्वंद्वी’ बताया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 28, 2021   16:35
UN के लिए अमेरिका की दूत लिंडा थॉमस ने चीन को ‘रणनीतिक प्रतिद्वंद्वी’ बताया

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा संयुक्त राष्ट्र की दूत के तौर पर नामित लिंडा थॉमस-ग्रीनफील्ड ने चीन को ‘रणनीतिक प्रतिद्वंद्वी’ और पड़ोसियों के लिए खतरा बताया है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा परिषद में चीन के दबदबे के खिलाफ आवाज उठाना उनकी शीर्ष प्राथमिकता होगी।

न्यूयॉर्क। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा संयुक्त राष्ट्र की दूत के तौर पर नामित लिंडा थॉमस-ग्रीनफील्ड ने चीन को ‘रणनीतिक प्रतिद्वंद्वी’ और पड़ोसियों के लिए खतरा बताया है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा परिषद में चीन के दबदबे के खिलाफ आवाज उठाना उनकी शीर्ष प्राथमिकता होगी। अमेरिका और चीन के बीच संबंध लगातार कटु होते जा रहे हैं। दोनों देशों के बीच कारोबार और कोरोना वायरस के उत्पत्ति स्थल समेत कई मुद्दों पर टकराव है।

इसे भी पढ़ें: संजय राउत का पलटवार, कहा- कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री को इतिहास की समझ होनी चाहिए

अमेरिका विवादित दक्षिण चीन सागर में चीन के आक्रामक रवैये और मानवाधिकार उल्लंघन के मामले भी उठाता रहा है। सीनेट की विदेश मामलों की कमेटी में अपने नाम की पुष्टि के समय ग्रीनफील्ड ने बुधवार को कहा, ‘‘संयुक्त राष्ट्र में चीन हमारे मूल्यों को धता बता रहा है... हमारी सुरक्षा को कमजोर करने का प्रयास कर रहा है।’’

इसे भी पढ़ें: तरक्की के समावेशी तूफान को अराजकता के साजिशी उफान से नहीं रोका जा सकता: नकवी

उन्होंने कहा, ‘‘चीन रणनीतिक प्रतिद्वंद्वी है और उसकी कार्रवाई हमारी सुरक्षा के लिए खतरा है। वे हमारे मूल्यों और जीवन को भी खतरा पहुंचा रहे हैं। वे अपने पड़ोसियों के लिए भी खतरा हैं और समूची दुनिया में खतरा बढ़ा रहे हैं। इस बारे में मुझे कोई संदेह नहीं है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।