सऊदी तेल विस्फोट मामले में अमेरिका की नजर UN के कदम पर

us-eyeing-un-move-in-saudi-oil-blast-case
अधिकारी ने कहा कि हमला सऊदी अरब पर हुआ है लेकिन इसके दुष्परिणाम वैश्विक हैं। संरा सुरक्षा परिषद का गठन अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा और अमन के सामने मौजूद खतरों को देखने के लिए किया गया है। यह हमला इस दायरे में आता है। हालांकि इस बारे में उन्होंने स्पष्ट उल्लेख नहीं किया कि सुरक्षा परिषद में वह किस तरह की कार्रवाई चाहते हैं

वॉशिंगटन। अमेरिका ने उम्मीद जताई है कि सऊदी अरब के तेल ढांचों पर हुए हमलों को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद कुछ कदम उठाएगी। इन हमलों के लिए वॉशिंगटन ईरान को दोषी मानता है। अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि सप्ताहांत पर हुए धमाकों का सामना करने वाले सऊदी अरब को सुरक्षा परिषद की ओर से कार्रवाई की मांग करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसमें हम संरा सुरक्षा परिषद की भूमिका की जरूरत को देखते हैं।

इसे भी पढ़ें: महंगाई की मार जारी, पेट्रोल और डीजल के दाम 24-25 पैसे लीटर बढ़े

अधिकारी ने कहा कि हमला सऊदी अरब पर हुआ है लेकिन इसके दुष्परिणाम वैश्विक हैं। संरा सुरक्षा परिषद का गठन अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा और अमन के सामने मौजूद खतरों को देखने के लिए किया गया है। यह हमला इस दायरे में आता है। हालांकि इस बारे में उन्होंने स्पष्ट उल्लेख नहीं किया कि सुरक्षा परिषद में वह किस तरह की कार्रवाई चाहते हैं। हमले की जिम्मेदारी यमन के हूथी विद्रोहियों ने ली है। उन्हें ईरान का समर्थन हासिल है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़