विज्ञापन में महिला मॉडल के आइसक्रीम खाने पर मचा बवाल, मौलवियों ने लगाया ये बैन

ice cream
common creative
निधि अविनाश । Aug 05, 2022 3:09PM
महिला के आइसक्रीम खाते एक ऐड पर ईरान में बवाल मच गया है। बता दें कि ये बवाल आइसक्रीम को लेकर नहीं बल्कि ऐड में महिला के होने से पूरा विवाद खड़ा हो गया है।महिला का ऐड पर आने के बाद से ईरान के कट्टरपंथी इस्लामिक नेताओं से लेकर मौलवियों ने अब इसके खिलाफ अपना मोर्चा खोल दिया है।

अरब देशों में महिलाओं की स्थिति कैसी है, इस बात से हर कोई वाकिफ है। सऊदी अरब, तालिबान से लेकर ईरान जैसे देशों में महिलाओं को लेकर सख्त कानून बनाए गए है। कपड़ों से लेकर खाने तक में महिलाओं पर सख्त नियम लागू हो रखे है। अब आप भी सोच रहे होंगे की भला खाने को लेकर महिलाओं पर कैसी पाबंदी? तो इसका जवाब हम आपको अभी दे देते है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबकि ईरान में एक महिला मॉडल का आइसक्रीम खाते हुए ऐड करना वहां की सभी महिलाओं पर भारी पड़ गया है।

इसे भी पढ़ें: ताइवान के नजदीक युद्ध अभ्यास पर पेलोसी ने बीजिंग को चेताया, द्वीप देश को अलग-थलग करने की अनुमति नहीं देंगे

महिला के आइसक्रीम खाते एक ऐड पर ईरान में बवाल मच गया है। बता दें कि ये बवाल आइसक्रीम को लेकर नहीं बल्कि ऐड में महिला के होने से पूरा विवाद खड़ा हो गया है। महिला का ऐड पर आने के बाद से ईरान के कट्टरपंथी इस्लामिक नेताओं से लेकर मौलवियों ने अब इसके खिलाफ अपना मोर्चा खोल दिया है। विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया है कि पूरे देश में महिलाओं के ऐड में काम करने पर बैन लगा दिया है। यह ऐलान इस ऐड के आने के बाद किया गया।
क्या है इस ऐड में?
बता दें कि इस ऐड में एक महिला ढीले ढाले हिजाब में आइसक्रीम खाते हुए दिखाई दे रही है। इस विज्ञापन पर ईरानी मौलवियों ने आपत्ति जताई। उन्होंने अधिकारियों से आइसक्रीम निर्माता कंपनी (Domino) डोमीनो पर कार्रवाई की मांग की है।
क्यों इतना कर रहे विवाद
मौलवियों के मुताबिक, यह ऐड सार्वजनिक शालीनता के खिलाफ है। साथ ही यह महिलाओं के मूल्यों का अपमान कर रहा है। इसी बीच ईरान के कल्चर और इस्लामिक गाइडेंस मिनिस्ट्री ने एक लेटर लिख यह ऐलान किया है कि ऐड में महिलाएं अब से काम नहीं करेंगी। लेटर में यह भी लिखा गया है कि यह रोक सांस्कृतिक क्रांति की सर्वोच्च परिषद के फैसलों के तहत ही है।

अन्य न्यूज़