मृत्यु आने से पहले मिलते हैं ये 8 संकेत, स्वयं भगवान शिव ने किया है इनका उल्लेख

symptoms of death
ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति की मौत आने से पहले उसके सामने कई प्रकार के संकेत आने शुरू हो जाते है। शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव ने माता पार्वती को मनुष्य की मृत्यु आने से पहले आने वाले संकेतों के बारे में बताया है, जिसका जिक्र शिवपुराण में किया गया है।

जीवन और मृत्यु इस संसार का एकमात्र सच है। मौत एक ऐसा शब्द है जिससे हर व्यक्ति डरता है लेकिन हर किसी को यह जानने की इच्छा होती है कि उसकी मृत्यु कब और कैसे होगी। ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति की मौत आने से पहले उसके सामने कई प्रकार के संकेत आने शुरू हो जाते है। शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव ने माता पार्वती को मनुष्य की मृत्यु आने से पहले आने वाले संकेतों के बारे में बताया है, जिसका जिक्र शिवपुराण में किया गया है। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि मृत्यु से पहले क्या संकेत मिलते हैं-

इसे भी पढ़ें: घर में मौजूद वास्तु दोष और नेगेटिव एनर्जी को दूर करने के लिए जरूर रखें ये 7 चीज़ें

शरीर का रंग 

किसी भी व्यक्ति के शरीर का रंग यदि एकदम से सफेद या नीला पड़ जाए ऐसे व्यक्ति की मौत बहुत जल्द ही हो सकती है या ऐसा होना इस बात का संकेत हो सकता है कि ऐसा व्यक्त 6 माह के भीतर भी मर सकता है।

परछाई का अलग दिखना

अपने ही शरीर से अपनी ही परछाई का अलग नजर आना मौत का संकेत माना जाता है। कहा जाता है न कि परछाई हमेशा साथ चलती है लेकिन मौत आने के समय परछाई भी साथ छोड़ देती है।


रंग पहचानने में दिक्कत होना 

शिवपुराण के अनुसार अगर किसी इंसान को रंग पहचानने में दिक्कत हो जाए या अचानक उसे सब कुछ काला नजर आने लगे तो उसे समझ जाना चाहे कि उसकी मृत्यु निकट ही है।

इसे भी पढ़ें: जल में ये 5 चीजें मिलाकर दें सूर्यदेव को अर्घ्य, पूरी होगी हर मनोकामना

बायें हाथ का फड़कना 

किसी भी व्यक्ति के बायें हाथ में करीब एक हफ्ते तक लगातार फड़कन बनी रहे तो समझिए उस व्यक्ति के दिन लद चुके हैं यानि उसकी मौत एक माह के दौरान हो सकती है। 

नीली मक्खियां 

भला किस घर में मक्खियों का डेरा नहीं होता लेकिन वो मक्खियां काली होती है, वहीं मौत का संकेत देने वाली मक्खियों का रंग नीला होता है। नीली मक्खियां किसी व्यक्ति को अचानक आकर घेर लें तो समझना चाहिए कि इसकी मौत निकट ही है। 

तीन दोष एक साथ होना 

जब मानव शरीर में तीन दोष एक साथ एक ही समय आ जाते हैं तो मानव शरीर त्यागने का वक्त आ चुका है ऐसा माना जाता है। लेकिन ये तीन दोष हैं क्या आप जानते हैं, अगर नहीं तो आपको बता दें कि ये तीन दोष जो मानव शऱीर में होते हैं उन्हें कफ, पित्त और वात कहा जाता है। 


अपनी परछाई ना देख पाना 

पानी, तेल, घी, सीसे आदि में अपनी परछाई ना देख पाने वाला व्यक्ति मुश्किल से 6 माह तक जीवित रह पाता है।

दिशाएं घूमती नज़र आना 

जिसे दिशाएं घूमती हूई दिखाई दें उसकी मौत भी जल्द होने की संभावनाएं नजर आती हैं।

- प्रिया मिश्रा

अन्य न्यूज़