• वास्तु अनुसार सजाएँ घर, आएगी सुख समृद्धि!

मुख्य द्वार की सजावट के बाद नंबर आता है ड्राइंग रूम का, क्योंकि यह वह जगह होता है जहां परिवार के सदस्य या मेहमान बैठते हैं। ऐसे में ड्राइंग रूम में रखे जाने वाले सोफे को लेकर यह सावधानी बरतें कि सोफा हमेशा दक्षिण- पश्चिम दीवार की तरफ ही लगाएं।

घर सजाना एक कला है और जब किसी घर को कलात्मक ढंग से सजाया जाता है तो वह घर अद्भुत अनुभूति प्रदान करता है। वहीं अगर आप अपने घर की सजावट करते समय वास्तु के कुछ नियमों का ध्यान रखते हैं तो आपका घर ना केवल सुंदर दिखेगा, बल्कि सुख समृद्धि को बढ़ाने वाला भी साबित होगा। 

इसे भी पढ़ें: बच्चा पढ़ने में करता है आनाकानी, तो वास्तु के ये उपाय आएंगे काम

तो आइए जानते हैं वह वास्तु के वे नियम जिन्हें घर सजाते हुए ध्यान में रखना चाहिए...

प्रवेश द्वार की सजावट 

घर के मुख्य द्वार या प्रवेश द्वार की जब आप सजावट करते हैं तो यहां पर भगवान गणेश की प्रतिमा लगा सकते हैं।

इसके अलावा आप भगवान बुद्ध की प्रतिमा भी अपने घर के मुख्य द्वार पर लगा सकते हैं, जो बेहद सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करने वाला होता है। अगर द्वार पर भगवान बुद्ध की प्रतिमा रख रहे हैं तो ध्यान रखें कि इसका मुख पूर्व दिशा की तरफ रहना चाहिए तो यह ज्यादा लाभदायक होता है। इसके अलावा आप अपने मुख्य द्वार पर घंटी और बजने वाली झालरें भी लगा सकते हैं। इसकी आवाज से घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।

ड्राइंग रूम की सजावट

मुख्य द्वार की सजावट के बाद नंबर आता है ड्राइंग रूम का, क्योंकि यह वह जगह होता है जहां परिवार के सदस्य या मेहमान बैठते हैं। ऐसे में ड्राइंग रूम में रखे जाने वाले सोफे को लेकर यह सावधानी बरतें कि सोफा हमेशा दक्षिण- पश्चिम दीवार की तरफ ही लगाएं। अगर यहाँ सोफे नहीं रख रहे हैं, तो उसकी जगह पर काउच या दीवान रख सकते हैं, लेकिन ये भी दक्षिण -पश्चिम दीवार पर ही रखें।

वहीं अगर ड्राईंग रूम में मनोरंजन के साधन जैसे कि टेलीविजन, म्यूजिक सिस्टम रख रहे हैं, तो इन्हें उत्तर दिशा में रखें। तब यह वास्तु के अनुसार उचित होता है। अगर आप ड्राइंग रूम में भगवान गणेश की मूर्ति रखना पसंद करते हैं, ऐसे में कोशिश करें कि भगवान गणेश की बैठी हुई मुद्रा में मूर्ति ड्राइंग में रखें। यह भी ध्यान देने की बात है कि गणेश भगवान की मूर्ति का सूंड हमेशा बाएं तरफ मुड़ी हुई होनी चाहिए। साथ ही गणेश भगवान के हाथों में लड्डू यह मोदक हो और साथ में मूषक का होना भी आवश्यक है।

पूजा घर की सजावट

हिंदू धर्म में पूजा पाठ का बहुत महत्व है। ऐसे में प्रत्येक घरों में मंदिर अवश्य पाया जाता है। ऐसे में अगर आप अपने पूजा घर को सजाने की सोच रहे हैं, तो यह ध्यान रखें कि पूजा घर की दीवारें हल्के पीले रंग से रंगी होनी चाहिए। ऐसे में यह बेहद शुभ माना जाता है। यह भी ध्यान रखें कि पूजा घर में कभी भी, किसी भी देवता की एक ही प्रतिमा रहनी चाहिए, तो इससे घर में सुख शांति बनी रहती है।

इसे भी पढ़ें: क्यों 'स्वाहा' बोले बिना नहीं मिलता है यज्ञ का फल

बेडरूम की सजावट

अपने बेडरूम की सजावट करते समय आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि बेडरूम की दीवारों का रंग हमेशा हल्का रखें। आप हल्का गुलाबी, हल्का नीला, हल्का पीला जैसे रंगों का चुनाव कर सकते हैं। वहीं बेडरूम में अगर आप खूबसूरत दीवार घड़ी लगा रहे हैं तो आपको यह ध्यान देना चाहिए कि दीवार घड़ी कभी भी सर के ऊपर ना लगाई जाए। 

यहां तक कि अगर आप अपने बेडरूम में बेड को भी सिंपल रखें। इससे पति-पत्नी के रिश्ते मधुर होते हैं। ऐसे में आप अपने बेडरूम में राधा-कृष्ण की प्रतिमा या तस्वीर लगा सकते हैं। इससे पति-पत्नी के बीच प्रेम बढ़ता है।

अपने सोने वाले कमरे में कभी भी देवी देवता या पूर्वजों की तस्वीरों को लगाने से आपको बचना चाहिए।

तो ये हैं वो उपाय, जिनको ध्यान में रखते हुए आप अपना घर सजाते हैं, जिससे सब सुखद रहता है।

विंध्यवासिनी सिंह