मेरठ में जुम्मे की नमाज के दौरान दीवार गिरने से दो की मौत, आधा दर्जन से ज्यादा लोग जख्मी

मेरठ में जुम्मे की नमाज के दौरान दीवार गिरने से दो की मौत, आधा दर्जन से ज्यादा लोग जख्मी

लिसाड़ीगेट क्षेत्र के अहमदनगर में मुहम्मदिया मस्जिद में रविवार दोपहर को जुमे की नमाज थी। नमाज शुरू होने से पहले ही मस्जिद में करीब 50 लोग पहुंचे थे। नमाज मस्जिद परिसर में खुले भाग में की जा रही थी।

मेरठ शहर के थाना लिसाडी गेट क्षेत्र में बरसात के दौरान मुहम्मदिया मस्जिद की दीवार गिरने से आधा दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इसमें से दो के मरने की पुष्टि हुई है। उधर घटना की सूचना मिलने पर पुलिस व फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची और राहत-बचाव का कार्य शुरू किया। 

इसे भी पढ़ें: योगी सरकार का बड़ा कदम ! जैविक खेती कर गंगा को शुद्ध करेंगे गंगातट पर बसे किसान 

लिसाड़ीगेट क्षेत्र के अहमदनगर में मुहम्मदिया मस्जिद में रविवार दोपहर को जुमे की नमाज थी। नमाज शुरू होने से पहले ही मस्जिद में करीब 50 लोग पहुंचे थे। नमाज मस्जिद परिसर में खुले भाग में की जा रही थी। नमाजियों के ऊपर बारिश का पानी न आए इसलिए मस्जिद परिसर में प्लास्टिक की तिरपाल लटकाई थी और भरभरा कर गिरने वाली दीवार में तिरपाल की रस्सी बांधी गई थी। जब तिरपाल पर बारिश का पानी भरा तभी दीवार जमीन पर आ गिरी। मस्जिद में नमाज पढ़ने आए अहमद नगर निवासी फारुख ने बताया की मस्जिद कई 15 साल पुरानी है।

मस्जिद की ऊपरी मंजिल पर जो दीवार बनाई गई थी वह 7 साल पहले बनाई गई। मस्जिद में पहली मंजिल की छत की ऊंचाई फर्श से करीब 16 फीट की है। 16 फुट ऊंची छत के ऊपर 5 फीट की दीवार बनी हुई थी। यह दीवार 9 इंची चौड़ी थी। मस्जिद में जुमे की नमाज के समय जैसे ही बारिश में दीवार गिरी, तभी मस्जिद में नमाजी मलबे की चपेट में आ गए। जो छत के कॉर्नर के बिल्कुल नीचे थे उनको ज्यादा चोट लगी है। 

इसे भी पढ़ें: मेरठ: हस्तिनापुर में युवक ने की आत्महत्या, आतंकियों को हथियार सप्‍लाई मामले में NIA ने की थी पूछताछ 

घायलों की चीख-पुकार मची तो अहमदनगर के आसपास के लोग मस्जिद में पहुंचे और मलवा उठाकर घायलों को बाहर निकाला। तभी कंट्रोल रूम की सूचना पर 6 मिनट में डायल 112 की गाड़ी भी पहुंच गई। आसपास के लोगों ने पुलिस की मदद से घायलों को अलग-अलग अस्पतालों में पहुंचाया। इस दौरान पुलिस ने 2 लोगों,कारी अफ्फान (33) पुत्र कारी शमशाद निवासी अहमदनगर , इमरान (32)पुत्र जब्बार अहमद निवासी अहमदनगर थाना लिसाड़ी गेट के मरने की पुष्टि की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।