भाजपा नेताओं को लेकर सिद्धारमैया का विवादास्पद बयान, बोले- मेरे खिलाफ मुधोल कुत्तों की तरह भौंकते हैं

Siddaramaiah
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा कि मैं जब भी बोलता हूं तो भाजपा के 25 लोग मुधोल कुत्तों की तरह मेरे खिलाफ भौंकने लगते हैं, लेकिन जब वे भौंकते हैं तो मुझे ही बोलना पड़ता है, हमारी पार्टी का कोई और नहीं बोलता। सिद्धारमैया ने यह बयान मैसूर में दिया है।

बेंगलूरू। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने गुरुवार को मैसूर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं को लेकर एक विवादास्पद बयान दिया। उन्होंने कहा कि जब भी मैं बोलता हूं भाजपा के 25 लोग कुत्तों की तरह मेरे खिलाफ भोंकने लगते हैं। जिसको लेकर कर्नाटक में घमासान मच सकता है। हालांकि पहले से ही चड्ढी को लेकर सियासत गर्मायी हुई है। 

इसे भी पढ़ें: राज्यसभा चुनाव: सिद्धारमैया का JDS विधायकों को पत्र, BJP को हराने के लिए कांग्रेस को दें वोट 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा कि मैं जब भी बोलता हूं तो भाजपा के 25 लोग मुधोल कुत्तों की तरह मेरे खिलाफ भौंकने लगते हैं, लेकिन जब वे भौंकते हैं तो मुझे ही बोलना पड़ता है, हमारी पार्टी का कोई और नहीं बोलता। सिद्धारमैया ने यह बयान मैसूर में दिया है। इससे पहले पाठ्यपुस्तक को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधा था। 

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक में अब पाठ्यपुस्तक विवाद को लेकर गर्मायी सियासत, गांधी प्रतिमा के सामने कांग्रेस का धरना प्रदर्शन 

सरकार के खिलाफ हुआ प्रदर्शन

उन्होंने कहा था कि पाठ्यपुस्तक को रोहित चक्रतीर्थ (पाठ्यपुस्तक संशोधन समिति के प्रमुख) द्वारा संशोधित किया गया है, जो एक रूढ़िवादी आरएसएस व्यक्ति है। मुझे उम्मीद है कि सरकार इसे संशोधित करने पर विचार करेगी। अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम सड़कों पर उतरेंगे। इतना ही नहीं कांग्रेस नेताओं ने पाठ्य पुस्तकों में संशोधन के मुद्दे को लेकर बेंगलुरु में विधान सौधा में गांधी प्रतिमा के सामने प्रदेश सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़