नोएडा में कोरोना के 29 नए केस, 47 मरीज हुये संक्रमण मुक्त

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   16:05
नोएडा में कोरोना के 29 नए केस, 47 मरीज हुये संक्रमण मुक्त

पिछले 24 घंटे में 47 मरीज संक्रमण मुक्त हुये हैं। उन्होंने बताया कि यहां के विभिन्न अस्पतालों में 522 मरीजों का उपचार चल रहा है। जिला निगरानी अधिकारी ने बताया कि अब तक जनपद में 24,188 मरीज उपचार के बाद संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

नोएडा। उत्तर प्रदेश के जनपद गौतमबुद्ध नगर में कोरोना वायरस संक्रमण के 29 नये मामले सामने आये। जिले में अब तक इस वायरस के संक्रमण के कारण 89 लोगों की मौत हो चुकी है। एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। जिला निगरानी अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि शनिवार को जनपद में कोरोना वायरस से संक्रमित 29 मरीज पाए गए हैं जबकि पिछले 24 घंटे में 47 मरीज संक्रमण मुक्त हुये हैं। उन्होंने बताया कि यहां के विभिन्न अस्पतालों में 522 मरीजों का उपचार चल रहा है। जिला निगरानी अधिकारी ने बताया कि अब तक जनपद में 24,188 मरीज उपचार के बाद संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि अब तक संक्रमित पाये गये लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 24,799 हो चुका है। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में कोरोना से 13 और मरीजों की मौत, संक्रमण के 1285 नए मामले

उन्होंने बताया कि जनपद में अब तक कोविड-19 के संक्रमण की वजह से 89 लोगों की मौत हो चुकी है। दूसरी ओर जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने बताया कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नये प्रकार के मिलने के बाद से प्रशासन पूरी तरह सतर्क हो गया है। उन्होंने बताया कि पिछले एक महीने में ब्रिटेन से 425 लोग नोएडा में लौटे हैं और इन सभी की सूची तैयार कर ली गई है। उन्होंने बताया कि 425 लोगों को 28 दिन के लिए गृह पृथक-वास में भेज दिया गयाहै। उन्होंने बताया कि 9 दिसंबर के बाद ब्रिटेन से लौटे 250 यात्रियों की जांच की जा रही है। अब तक 117 यात्रियों की आरटीपीसीआर जांच की गई है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।