उत्तर प्रदेश में कोरोना से 38 और लोगों की मौत, 2,018 नए मरीज

Uttar Pradesh
प्रयागराज में 322 कोरोना संक्रमित लोगों की मृत्यु हुई है। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,018 नए मामले सामने आए। सबसे ज्यादा 198 मरीज प्रयागराज में मिले हैं। इसके अलावा लखनऊ में 186, लखीमपुर खीरी में 168, गौतम बुद्ध नगर में 151 तथा मेरठ में 123 नए मरीजों का पता लगा है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 से 38 और लोगों की मौत हो गई तथा संक्रमण के 2,018 नए मामले सामने आए। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंगलवार को जारी बुलेटिन के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोविड-19 से 38 और लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6,940 हो गई है। मौत के नए मामलों में सबसे ज्यादा छह मौत राजधानी लखनऊ में हुई हैं। इसके अलावा कानपुर नगर में चार, इटावा और सीतापुर में तीन-तीन, गोरखपुर, वाराणसी, मेरठ, मुरादाबाद, लखीमपुर-खीरी तथा आजमगढ़ में दो-दो और गौतम बुद्ध नगर, आगरा, बलिया, जौनपुर, बस्ती, गाजीपुर, प्रतापगढ़, अमरोहा, ललितपुर तथा मिर्जापुर में कोविड-19 से एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। राजधानी लखनऊ में अब तक सबसे ज्यादा 870 लोगों की मौत हुई है। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा के आठ उम्‍मीदवारों ने राज्‍यसभा के लिए भरा पर्चा

इसके अलावा कानपुर नगर में 728 तथा प्रयागराज में 322 कोरोना संक्रमित लोगों की मृत्यु हुई है। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,018 नए मामले सामने आए। सबसे ज्यादा 198 मरीज प्रयागराज में मिले हैं। इसके अलावा लखनऊ में 186, लखीमपुर खीरी में 168, गौतम बुद्ध नगर में 151 तथा मेरठ में 123 नए मरीजों का पता लगा है। हालांकि इसी अवधि में 2,326 मरीज पूरी तरह ठीक भी हुए हैं। प्रदेश में इस वक्त 26,267 मरीजों का इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में 1,38,155 नमूनों की जांच की गई। राज्य में अब तक एक करोड़ 42 लाख 76 हजार 788 नमूनों की जांच की जा चुकी है। राज्य में अब तक 4,74,054 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं जिनमें से 4,40,847 पूरी तरह ठीक भी हो चुके हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़